न्यूज

बारिश की स्थिति में सुधार के बाद भी खरीफ फसलों की बुआई चार फीसदी पीछे

महीने भर से देश के कई अधिकांश क्षेत्रों में अच्छी बारिश होने के बावजूद भी खरीफ फसलों की बुआई 4.06 फीसदी पिछड़ी है। कृषि मंत्रालय के अनुसार चालू खरीफ में फसलों की बुआई 975.16 लाख हेक्टेयर में ही हो...और पढ़े


मानूसनी बारिश में सुधार के बावजूद धान, दलहन की बुआई पिछे

अगस्त में मानसूनी बारिश अच्छी होने के बाद भी खरीफ की प्रमुख धान और दलहन की बुआई पिछड़ी है। चालू खरीफ में धान की रोपाई 12.28 फीसदी पिछड़ कर अभी तक केवल 301.40 लाख हेक्टेयर में ही हो पाई है जबकि पिछले...और पढ़े


स्वतंत्रता दिवस पर इफको ने DAP और NPK खाद के दाम में 50 रुपये की कटौती की

रासायनिक उर्वरक कंपनी इफको ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर किसानों को तोहफा दिया है। इफको ने एक बार फिर उर्वरकों के दाम में कटौती करते हुए DAP और NPK उर्वरक के दाम में प्रति बोरी 50 रुपये की कटौती की...और पढ़े


किसानों को पराली प्रबंधन के उपकरण खरीदने के लिए 588 करोड़ रुपये की सब्सिडी

पराली नहीं जलाने को लेकर किसानों में जागरूकता बढ़ी है। वर्ष 2018 में पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली के 4,500 गांवों ने पराली प्रबंधन को अपनाया है। पराली प्रबंधन की मशीन...और पढ़े


मानसूनी बारिश में सुधार के बाद भी धान की रोपाई 12.8 फीसदी पिछे

अगस्त में देशभर में मानसूनी बारिश में सुधार आया है जिससे खरीफ फसलों दलहन, तिलहन और मोटे अनाजों की बुआई में पहले की तुलना में सुधार तो आया है लेकिन खरीफ की प्रमुख फसल धान की रोपाई अभी भी 12.8 फीसदी...और पढ़े


मानसूनी बारिश की कमी से खरीफ फसलों की बुआई 6.5 फीसदी घटी

मानसूनी सीजन के दो महीने बीतने के बाद भी देश के 12 राज्यों में बारिश सामान्य से कम हुई है जिससे कई राज्यों में सूखे जैसे हालात होने के कारण खरीफ फसलों की बुआई में 6.5 फीसदी की कमी आकर कुल बुआई 788.52...और पढ़े


देशभर के 56 फीसदी हिस्से में मानसूनी बारिश कम, खरीफ फसलों की बुआई 6.43 फीसदी घटी

मानसूनी सीजन के दो महीने समाप्त होने को है लेकिन देश के 56 फीसदी क्षेत्रफल में अभी बारिश सामान्य से कम हुई है जिससे कई राज्यों में सूखे जैसे हालात बने हुए है। इससे खरीफ फसलों की बुआई में 6.43 फीसदी...और पढ़े


मौजूदा कृषि विकास दर पर 2022 तक किसानों की आय दोगुनी होने में सरकार को संशय

सरकार ने इस बात में संदेह व्यक्त किया है कि मौजूदा चार फीसदी कृषि विकास दर पर वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना हो जायेगी। कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने शुक्रवार को...और पढ़े


मोदी सरकार ने गन्ना किसानों को दिया झटका, नहीं बढ़ाया एफआरपी

केंद्र सरकार ने गन्ना किसानों को झटका देते हुए पहली अक्टूबर 2019 से शुरू होने वाले पेराई सीजन 2019-20 के लिए गन्ने के उचित एवं लाभकारी मूल्य (एफआरपी) में बढ़ोतरी नहीं करने का फैसला किया है जिससे देश...और पढ़े


चालू पेराई सीजन का चीनी मिलों पर किसानों का बकाया 15,222 करोड़-पासवान

पहली अक्टूबर 2018 से शुरू हुए चालू पेराई सीजन 2018-19 (अक्टूबर से सितंबर) का चीनी मिलों पर किसानों का 15,222 करोड़ रुपये बकाया है। बकाया में सबसे ज्यादा हिस्सेदारी 9,746 करोड़ रुपये उत्तर प्रदेश की चीनी...और पढ़े