Home दुनिया दक्षिण एशिया भारत ने चीन-पाक से कहा, सीपीईसी पर तुरंत काम बंद करे, कश्मीर के उल्लेख पर कड़ी आपत्ति

भारत ने चीन-पाक से कहा, सीपीईसी पर तुरंत काम बंद करे, कश्मीर के उल्लेख पर कड़ी आपत्ति

SEP 10 , 2019
भारत ने चीन-पाक से कहा, सीपीईसी पर तुरंत काम बंद करे, कश्मीर के उल्लेख पर कड़ी आपत्ति
चीन-पाक के बयान में कश्मीर के उल्लेख पर भारत ने जताई कड़ी आपत्ति

भारत ने चीन-पाकिस्तान के पिछले सप्ताह जारी संयुक्त बयान में जम्मू कश्मीर का उल्लेख किए जाने पर कड़ी आपत्ति जताई है और पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले कश्मीर में (पीओके) में चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) बनाए जाने पर चिंता व्यक्त की है। उसने चीन और पाकिस्तान से सीपीईसी को तुरंत रोकने की भी मांग की है।

विदेश मंत्रालय ने कहा, कश्मीर भारत का

भारतीय विदेश मंत्राय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि चीन के विदेश मंत्री के पाक दौरे के बाद जारी उनके संयुक्त बयान में जम्मू कश्मीर के उल्लेख को हम अस्वीकार करते हैं।

इकोनॉमिक कॉरिडोर पर चिंता जताई

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पीओके की यथास्थिति में किसी अन्य देश के द्वारा किसी बदलाव का भारत कड़ा विरोध करता है। भारत चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर प्रोजेक्ट को लेकर चीन और पाकिस्तान के समक्ष विरोध जता चुका है। जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। पाकिस्तान ने 1947 से ही उसके कुछ हिस्से पर अवैध रूप से कब्जा कर रखा है। हम मांग करते हैं कि दोनों देश इस प्रोजेक्ट को तुरंत रोके।

चीन-पाक ने कश्मीर को बताया विवादित क्षेत्र

पाकिस्तान और चीन ने रविवार को जारी बयान में कहा था कि चीन जम्मू कश्मीर की घटनाओं पर नजदीकी से गौर कर रहा है। बयान में कश्मीर को एतिहासिक रूप से विवादित बताया गया है। इस विवाद का शांतिपूर्ण समाधान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्ताव और द्विपक्षीय समझौतों के आधार पर होना चाहिए।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से