Home कला-संस्कृति
कला-संस्कृति

जिए जा रहे जीवन की गूंज

“जो लोग कुलदीप कुमार को साहित्यिक-सांस्कृतिक, सामाजिक-राजनैतिक विषयों पर निरंतर हिंदी-अंग्रेजी में...

भूला-बिसरा कलमकार

“कहानीकार अरविंद कुमार ने भोजपुरी जी की रचनावली निकाल कर नई पीढ़ी को उनके व्यक्तित्व और योगदान से...

एटवुड और एवरिस्तो ने संयुक्त रूप से जीता बुकर प्राइज, 27 साल बाद एक विजेता चुनने का टूटा नियम

कनाडा की मार्गरेट एटवुड और ब्रिटेन की बर्नरडाइन एवरिस्तो को संयुक्त रूप बुकर प्राइज 2019 का विजेता चुना...

गांधी की मृत्यु भी एक संदेश

बीसवीं शताब्दी के अग्रणी हंगेरियन साहित्यकार नेमेथ लास्लो (1901-1975) अपनी ‘गांधी की नाट्य डायरी’ में...

जाति विनाश जरूरी

“जाति प्रथा और हिंदू धर्म के एक-एक तर्क का आंबेडकर ने खंडन किया” डॉ. आंबेडकर के प्रसिद्ध भाषण...

आखिरकार दरियागंज संडे बुक मार्केट को मिला नया ठिकाना, जानिए अब कहां लगेगा बाजार

किताब प्रेमियों के लिए खुशखबरी है। पुरानी दिल्ली की पहचान से जुड़ी दरियागंज की संडे बुक मार्केट को...

दिन भर सिर्फ वही

“महेंद्र सिंह धोनी एक मोबाइल ब्रांड लावा का महिमा मंडन करते हैं” उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 को...

नहीं रहे साहित्य अकादेमी पुरस्कार विजेता किरण नागरकर, ये था उनका आखिरी उपन्यास

सुप्रसिद्ध उपन्यासकार, नाटककार और पत्रकार किरण नागरकर का गुरुवार रात मुंबई में निधन हो गया, वे 77 वर्ष...

मिजोरम में पहचान और संस्कृति बचाने की खातिर स्थानीय से शादी पर जोर

पूर्वोत्तर के विशाल और रंगीन जनसांख्यिकीय कैनवस पर एक समूह हमेशा से ‘बाहरी लोगों’ का रहा है। यह...

लेखन समाज में गतिशीलता लाने के साथ समाज को जागृत करता है: सीएम खट्टर

हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि साहित्य हमारे समाज को जागृत करता है, इसलिए हर किसी...

जज ने अर्बन नक्सल केस में ‘वार एंड पीस’ पर पूछे सवाल, जानें टॉलस्टॉय की इस किताब में क्या है खास

मशहूर रूसी लेखक लियो टॉलस्टॉय की किताब ‘वॉर एंड पीस’ एक बार फिर चर्चा में है। दरअसल, बॉम्बे...

एक सर्जक का सफर

यह पुस्तक जैनेन्द्र कुमार (1905-1988) की जीवन-यात्रा का अंकन है, जिसे ज्योतिष जोशी ने गहरे उतरकर लि खा है।...

हजारों वर्षों से ‘अन्य’ को हीन और दोयम मानता रहा है समाजः रोमिला थापर

 प्रसिद्ध इतिहासकार रोमिला थापर ने कहा है कि भारत में हजारों वर्षों से व्यवस्था के ताकतवर लोग दूसरों...

फ्रंटियर पर नया नजरिया

“पाकिस्तान के नॉर्थ वेस्ट फ्रंटियर प्रॉविंस (अब खैबर पख्तूनखवा) के बारे में भारत में लोग कम ही जानते...