Home » दुनिया » अंतरराष्ट्रीय » ओबामा को गाली देने वाले से ट्रंप की गलबहियां

ओबामा को गाली देने वाले से ट्रंप की गलबहियां

NOV 14 , 2017

फिलीपींस की राजधानी मनीला में आसियान शिखर सम्मेलन के दौरान सोमवार को एक मुलाकात ने पूरी दुनिया का ध्यान खींचा। ये थी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके फिलीपींस के समकक्ष रोड्रिगो दुर्तेते की मुलाकात। अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में दो राष्ट्र प्रमुखों की मुलाकात कोई अनहोनी घटना नहीं है, लेकिन इन दोनों नेताओं के बीच जिस तरह गर्मजोशी दिखी वह हैरान करने वाली थी।

असल में दुर्तेते वही नेता हैं जिन्होंने ट्रंप के पूर्ववर्ती बराक ओबामा को बीते साल मां की गाली दी थी। इस टिप्पणी के बाद ओबामा ने दुर्तेते के साथ अपनी प्रस्तावित बैठक रद कर दी थी। दुर्तेते खुद से लोगों की हत्या करने की शेखी भी बघार चुके हैं। उन्होंने नशीले पदार्थों के तस्करों के खिलाफ एक मुहिम चला रखी है जिसे मानवाधिकार समूहों ने नरसंहार करार दिया है। पश्चिमी देशों का भी मानना है कि इस अभियान के तहत पुलिस बेगुनाहों को मौत के घाट उतार रही है। इसी अभियान की आलोचना करने पर दुर्तेते ओबामा पर भड़क गए थे।

मानवाधिकार समूहों ने ट्रंप से भी अपने एशियाई दौरे के अंत में नशीले पदार्थ के खिलाफ दुतेर्ते की कठोर मुहिम की कड़ी आलोचना करनी की अपील की थी। सोमवार को मनीला में इन संगठनों ने प्रदर्शन भी किया। लेकिन, इसका ट्रंप पर कोई असर नहीं दिखा। सोमवार सुबह शिखर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह से पहले ट्रंप ने दुतेर्ते से हाथ मिलाया और फिर दोनों ने 30 सेकंड तक बातचीत की। इस दौरान दोनों मुस्कुराते रहे। शिखर सम्मेलन से पहले रविवार को हुए भोज में भी दोनों नेता एक साथ बैठे और बातचीत की। दुतेर्ते ने यहां गाना भी गाया और कहा कि ये उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति की गुजारिश पर गाया है।

Advertisement

ट्रंप द्वारा यह मुद्दा नहीं उठाने की दुर्तेते को पहले से उम्मीद थी। इस संबंध में रविवार को पूछे गए एक सवाल के जवाब में दुर्तेते ने कहा था कि उन्हें पूरा भरोसा है कि ट्रंप इसे नहीं उठाएंगे। सोमवार को यह बात उस समय सच साबित हुई जब ट्रंप ने दुर्तेंते के साथ संबंधों को शानदार बताया। दुर्तेते के प्रवक्ता ने बताया कि 40 मिनट से ज्यादा समय तक चली बैठक में दोनों नेताओं के बीच मानवाधिकार संगठनों के आरोप को लेकर कोई बात नहीं हुई।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.