Home » दुनिया » अंतरराष्ट्रीय » व्लादिमीर पुतिन दोबारा बनना चाहते हैं रूस के राष्ट्रपति, 2018 में भी लड़ेंगे चुनाव

व्लादिमीर पुतिन दोबारा बनना चाहते हैं रूस के राष्ट्रपति, 2018 में भी लड़ेंगे चुनाव

DEC 07 , 2017

आगामी मार्च में होने वाले चुनाव में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन फिर से छह साल का नया कार्यकाल चाहते हैं। इस बात की घोषणा उन्होंने खुद बुधवार को की। अगर ऐसा होता है तो पुतिन जोसेफ स्टालिन के बाद सबसे लंबे समय तक राष्ट्रपति पद पर रहने वाले व्यक्ति बन जाएंगे।

पुतिन पिछले 18 साल से सत्ता में है और उनके अगला चुनाव जीतने की भी संभावना है। उनके खिलाफ सिर्फ नाम का ही उम्मीदवार चुनाव लड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘मैं रूसी फेडरेशन के राष्ट्रपति पद के लिए अपनी दावेदारी पेश करूंगा।’ मैं उम्मीद करता हूं कि तब तक सारे हालात हमारे पक्ष में होंगे। उनके इस एलान के बाद लोगों ने तालियां बजाकर उनका वेलकम किया। रूस में भ्रष्टाचार, गरीबी और खराब स्वास्थ्य सेवाओं के बावजूद 65 वर्षीय इस नेता की लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई है।

जीते तो 2024 तक राष्ट्रपति रहेंगे

रूस में 2018 में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। पुतिन यह चुनाव लड़ते हैं तो वो 2024 तक राष्ट्रपति रहेंगे। तब उनकी उम्र 72 साल हो जाएगी। 

रूस के ज्यादातर हिस्सों में पुतिन लोकप्रिय हैं

रूस में अभी भी 80 फीसदी लोग पुतिन को पसंद करते हैं। हालांकि, उनके खिलाफ रहे लोगों को कहना है कि उन्होंने करप्ट लोगों का साथ दिया और यूक्रेन में गलत दखलंदाजी की। इसकी वजह से रूस दुनिया में अकेला पड़ गया।

1999 में नए साल की पूर्व संध्या पर बोरिस येल्तसिन के इस्तीफे के बाद पुतिन राष्ट्रपति बने थे। उन्होंने अपना दूसरा कार्यकाल खत्म होने के बाद अपने सहयोगी मेदवेदेव को साल 2008 में सत्ता सौंप दी थी। पुतिन इसके बाद देश की पीएम रहे। साल 2012 में उन्होंने फिर से राष्ट्रपति के रूप में वापसी की।

  


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.