Home दुनिया अंतरराष्ट्रीय नीरव मोदी की ब्रिटिश अदालत को धमकी, भारत भेजा तो कर लूंगा आत्महत्या

नीरव मोदी की ब्रिटिश अदालत को धमकी, भारत भेजा तो कर लूंगा आत्महत्या

आउटलुक टीम - NOV 07 , 2019
नीरव मोदी की ब्रिटिश अदालत को धमकी, भारत भेजा तो कर लूंगा आत्महत्या
नीरव मोदी की ब्रिटिश अदालत को धमकी, भारत भेजा तो कर लूंगा आत्महत्या
आउटलुक टीम

पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले के मुख्‍य आरोपी और भगोड़ा घोषित हो चुके हीरा कारोबारी नीरव मोदी की जमानत याचिका एक बार फिर यूके की अदालत में खारिज कर दी गई है। वहीं अदालत में सुनवाई के दौरान नीरव मोदी ने अपना आपा खो दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उसने धमकी भरे लहजे में कहा कि यदि उसे भारत को प्रत्यर्पित किया गया, तो वह आत्महत्या कर लेगा।

नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से जुड़े दो अरब डॉलर के धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग मामले में भारत को प्रत्यर्पित किए जाने के खिलाफ मुकदमा लड़ रहा है। नीरव को लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत के समक्ष पेश किया गया। उसके खिलाफ अगले साल मई में मुकदमे की सुनवाई शुरू होगी और उसने इससे पहले जमानत पाने के लिए एक और प्रयास किया। नीरव ने मुचलके के तौर पर 40 लाख पाउंड भुगतान करने की पेशकश की मगर न्यायाधीश एम्मा अर्बथनॉट ने उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी।

नीरव मोदी ने बताया कि उसे जेल में तीन बार पीटा गया है. हालांकि, उसकी इन दलीलों का कोर्ट में कोई असर देखने को नहीं मिला और उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई।

वहीं नीरव मोदी ने अपनी बात कोर्ट में रखते हुए कहा कि यदि उसे भारत भेजे जाने का फैसला दिया गया तो वह खुद को खत्म कर लेगा। नीरव ने कहा कि उसे भारत में निष्पक्ष ट्रायल की उम्मीद नहीं है।

कैदियों ने की पिटाई

नीरव के वकील ने बताया कि मंगलवार की सुबह जेल में बंद दो कैदी उसके सेल में आए और उन्होंने नीरव को घूंसा मारा और जमीन पर गिराकर काफी पिटाई की। ये हमला नीरव मोदी को ही खासतौर पर निशाना बनाते हुए किया गया था। कीथ ने डॉक्टर की नीरव के डिप्रेशन की गोपनीय रिपोर्ट के लीक हिस्से का जिक्र करते हुए ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि जेल के अधिकारियों ने इस मामले में कुछ भी नहीं किया।

अवसाद की समस्या का दावा

इसी अदालत में पिछली पेशी की तुलना में नीरव इस बार तंदुरूस्त लग रहा था। उसने ब्लू स्वेटर पहन रखा था और दाढ़ी भी बना रखी थी। बताया जाता है कि उसने अपनी नई याचिका में बेचैनी और अवसाद की समस्या का दावा किया ।

वैंड्सवर्थ जेल में है नीरव

नीरव मोदी 19 मार्च को गिरफ्तारी के बाद दक्षिण-पश्चिम लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में है। भारत सरकार के अनुरोध पर स्कॉटलैंड यार्ड (लंदन पुलिस) ने प्रत्यर्पण वारंट की तामील करते हुए उसे गिरफ्तार किया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से