Home दुनिया अंतरराष्ट्रीय गलवान हिंसा पर चीन का कबूलनामा, मारे गए थे उनके सैनिक

गलवान हिंसा पर चीन का कबूलनामा, मारे गए थे उनके सैनिक

आउटलुक टीम - FEB 19 , 2021
गलवान हिंसा पर चीन का कबूलनामा, मारे गए थे उनके सैनिक
प्रतीकात्मक तस्वीर
आउटलुक टीम

चीन ने पहली दफे स्वीकार किया है कि जून-2020 में लद्दाख की गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों के साथ हुए संघर्ष में उसकी सेना के पांच अधिकारी और सैनिक मारे गये थे।

चीन के सरकारी समाचारपत्र ग्लोबल टाइम्स ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के हवाले से अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। चीन ने अपनी सेना के मृत अधिकारियों और सैनिकों विवरण भी दिया है। इनमें पीएलए शिनजियांग मिलिट्री कमांड के रेजीमेंटल कमांडर क्यूई फबाओ, चेन होंगुन, जियानगॉन्ग, जिओ सियुआन और वांग ज़ुओरन शामिल हैं।

चीनी सेना ने गलवान संघर्ष में अपने सैनिकों के मारे जाने की स्वीकारोक्ति ऐसे समय की है जब लद्दाख सीमा पर पैन्गॉन्ग लेक के उत्तरी और दक्षिणी हिस्सों से भारत और चीन के सैनिकों को पीछे हटाने की प्रक्रिया जारी है तथा गुरुवार को दोनों देशों के बीच इस प्रक्रिया का चौथा चरण भी शुरू हुआ है।

उल्लेखनीय है कि पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में पिछले साल 15 जून को दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद हुए थे। भारत ने हालांकि अपने सैनिकों के हताहत होने की घोषणा उसी दौरान कर दी थी लेकिन चीन ने अभी तक अपने सैनिकों को हुए नुकसान का ब्यौरा नहीं दिया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से