Home » दुनिया » सामान्य » मोदी ने मुक्तिनाथ मंदिर के बाद पशुपतिनाथ में की पूजा

मोदी ने मुक्तिनाथ मंदिर के बाद पशुपतिनाथ में की पूजा

MAY 12 , 2018

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नेपाल के प्रसिद्ध मुक्तिनाथ मंदिर में पूजा की। मोदी इस मंदिर में आने वाले पहले विदेशी नेता है। यह मंदिर हिंदू और बौद्ध दोनों के लिए समान रूप से श्रद्धा का केंद्र हैं। पूजा के दौरान मोदी ने मंदिर में रखे ड्रम को भी बजाया। यहां से के बाद प्रधानमंत्री राजधानी काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचे और वहां भगवान शिव की पूजा की। मोदी ने यहां रखी आगंतुक पुस्तिका में भी अपनी टिप्पणी लिखी। उन्होंने लिखा कि पशुपतिनाथ मंदिर में एक बार फिर प्रार्थना करने से मुझे प्रसन्नता हुई।

ड्रम बजाते मोदी की देखें वीडियो


 

मंदिर में मोदी ने बौद्धों के पारंपरिक लाल रंग का परिधान पहन रखा था। उन्होंने हिंदू और बौद्ध दोनों रीतियों से पूजा की। उन्होंने मंदिर के बाहर लोगों से मुलाकात की भी की। नेपाल की जनता से पीएम की  मुलाकात करीब 10 मिनट तक चली। मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री सबको नमस्ते करते हुए नजर आए।

मंदिर में पूजा करते मोदी की देखें वीडियो


 

मुक्तिनाथ मंदिर के मुख्य दरवाजे पर जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी पहुंचे, वहां गेट पर खड़ी महिलाओं ने हाथों में फूल लेकर उनक स्वागत किया। गेट पर भव्य स्वागत के बाद पीएम मोदी मंदिर के अंदर पहुंचे और विधिवत पूजा की। उन्होंने भगवान की मूर्ति पर फूल भी चढ़ाए। इस दौरान उनके साथ मंदिर के दो पुजारी भी मौजूद थे।

इससे पहले नेपाल ने प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने शुक्रवार को बताया था कि प्रधानमंत्री मोदी मुक्तिनाथ मंदिर में पूजा करने वाले पहले विदेशी अतिथि होंगे। मुक्तिनाथ मंदिर मुक्तिनाथ घाटी में स्थित है। इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 3,710 मीटर है।

पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड और देऊबा से मिले मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नेपाल के दो पूर्व प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ और शेर बहादुर देऊबा से मुलाकात की। इनके अलावा मोदी विपक्षी दलों के अन्य नेताओं से भी भेंट की। उन्होंने इन सभी के साथ भारत और नेपाल के बीच रिश्तों को और मजबूती देने पर चर्चा की। इनके अलावा प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय जनता पार्टी-नेपाल के प्रतिनिधियों से भी बात की। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व महंत ठाकुर कर रहे थे।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.