Home दुनिया सामान्य अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कहा, 'हाफिज सईद के खिलाफ कई सारे सबूत'

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कहा, 'हाफिज सईद के खिलाफ कई सारे सबूत'

आउटलुक टीम - JAN 19 , 2018
अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कहा, 'हाफिज सईद के खिलाफ कई सारे सबूत'
हाफिज सईद के खिलाफ कई सारे सबूत: हामिद करजई
File Photo

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी घोषित हाफिज सईद के खिलाफ बहुत सारे सबूत हैं। हामिद करजई का यह बयान तब आया है जब कुछ ही दिन पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने 2008 के मुंबई आतंकी हमले के षड्यंत्रकारी सईद को क्लीनचिट दे दी।

करजई से जब राजधानी दिल्ली में रायसीना संवाद से अलग सईद को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री द्वारा क्लीनचिट दिए जाने के बारे में पूछा गया तो पूर्व अफगान राष्ट्रपति ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा, ‘ओह। कई सारे सबूत हैं। और सभी को पता है।’

बता दें कि अब्बासी ने मंगलवार को जियो टीवी पर एक इंटरव्यू में सईद को ‘साहब’ कहकर पुकारा था। जमात-उद-दावा प्रमुख को नवंबर में पाकिस्तान नजरबंदी से रिहा किया गया था।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद ख्‍ाकान अब्बासी का कहना है कि ‘26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद’ के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं है और इसके बिना किसी के भी खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की जा सकती है।

 अब्बासी ने एक साक्षात्कार में कहा कि अगर किसी के खिलाफ कोई केस दर्ज होता है तभी उसके खिलाफ कोई कार्रवाई का जाती है। आपको बता दें कि, इससे पहले नवंबर में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने दावा किया था कि भारत ने हाफिज के खिलाफ कोई सबूत नहीं उपलब्ध कराए हैं जिसके बिना पर उसे हिरासत में लिया जा सके।

 जमात-उद-दावा (जेयूडी) को लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का सहयोगी संगठन माना जाता है। 26/11 के मुंबई आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए लश्कर ही जिम्मेदार था। हमलों में 166 लोगों की जान चली गई थी। अमेरिका ने जून 2014 में लश्कर-ए-तैयबा को विदेशी आतंकी संगठन करार दिया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से