Advertisement
Home दुनिया सामान्य पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी ने सरकार को दिया अल्टीमेटम, कहा- एक माह में नए चुनाव की तारीखों की करे घोषणा

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी ने सरकार को दिया अल्टीमेटम, कहा- एक माह में नए चुनाव की तारीखों की करे घोषणा

आउटलुक टीम - AUG 06 , 2022
पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी ने सरकार को दिया अल्टीमेटम, कहा- एक माह में नए चुनाव की तारीखों की करे घोषणा
पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी ने सरकार को दिया अल्टीमेटम, कहा- एक माह में नए चुनाव की तारीखों की करे घोषणा
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी ने शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार को नए आम चुनावों की तारीखों की घोषणा करने के लिए एक महीने का अल्टीमेटम दिया है। वहीं, इमरान खान ने इस बात पर जोर दिया है कि देश में मौजूदा राजनीतिक संकट को समाप्त करने का एकमात्र तरीका तत्काल स्वच्छ और पारदर्शी चुनाव कराना है।

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और पूर्व संघीय सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी प्रधानमंत्री शरीफ के नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार को नेशनल असेंबली को भंग करने और नए सिरे से चुनाव की घोषणा के लिए "एक महीने" से अधिक का समय नहीं देगी।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार ने चौधरी के हवाले से कहा, "अगले 48 घंटों के भीतर, पार्टी इस्लामाबाद में एक बड़ी बैठक की तारीख की घोषणा करेगी... सभा के दौरान, पीटीआई गठबंधन सरकार को चुनाव की तारीख की घोषणा करने के लिए एक अल्टीमेटम जारी करेगी।" चौधरी ने कहा कि अल्टीमेटम के बाद भी अगर सरकार चुनावों की घोषणा नहीं करती है, तो "हमारे कार्यों के लिए तैयार हो जाओ, क्योंकि अधिक समय देने से देश की अर्थव्यवस्था नष्ट हो जाएगी।"

पूर्व मंत्री ने दावा किया कि उनकी पार्टी को चुनाव आयोग पर कोई भरोसा नहीं है। “यह संभव नहीं है कि चुनाव आयोग पारदर्शी चुनाव कराए। इसलिए चुनाव आयोग का परिवर्तन अपरिहार्य है; राजनीतिक और आर्थिक स्थिरता के लिए एकमात्र रास्ता आम चुनाव है। ”

इमरान खान की पीटीआई और पाकिस्तान चुनाव आयोग के बीच आमना-सामना हुआ है। चुनाव आयोग ने मंगलवार को कहा कि खान की पार्टी को भारतीय मूल की एक व्यवसायी सहित 34 विदेशी नागरिकों से नियमों के खिलाफ धन प्राप्त हुआ है, जो पूर्व प्रधानमंत्री के लिए एक बड़ा झटका है। खान मुख्य चुनाव आयुक्त सिकंदर सुल्तान राजा पर 'आयातित सरकार' के साथ 'साठगांठ' करने का आरोप लगाते रहे हैं।

पिछला आम चुनाव जुलाई 2018 में हुआ था और पाकिस्तान की वर्तमान नेशनल असेंबली का कार्यकाल अक्टूबर 2023 तक है। पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) - जिसमें पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) सहित सत्तारूढ़ गठबंधन में ज्यादातर राजनीतिक दल शामिल हैं - ने पिछले हफ्ते घोषणा की कि अगला आम चुनाव अगले साल अपने निर्धारित समय पर होगा। .

गुरुवार को, पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने कहा कि वह इस साल अक्टूबर तक आम चुनाव कराने की तैयारी कर रहा है, क्योंकि उसने निर्वाचन क्षेत्रों के परिसीमन का काम पूरा कर लिया है।

खान ने इस बात पर जोर दिया है कि देश में मौजूदा राजनीतिक संकट को समाप्त करने का एकमात्र तरीका तत्काल स्वच्छ और पारदर्शी चुनाव कराना है। उहोंने कहा था कि  "एक ही रास्ता है [देश को राजनीतिक अस्थिरता से मुक्त करने के लिए]: स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव। जब वे मुझे हटा रहे थे, मैंने आम चुनावों की घोषणा की थी, लेकिन अदालतों ने मेरे फैसले को पलट दिया। मुझे अब भी विश्वास है कि यह सही कॉल था।"

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement