Imran Khan to take oath as Pakistan Prime Minister on Aug 18: party : Outlook Hindi
Home » दुनिया » सामान्य » इमरान खान 18 अगस्त को लेंगे पाक पीएम पद की शपथ

इमरान खान 18 अगस्त को लेंगे पाक पीएम पद की शपथ

AUG 10 , 2018

इमरान खान 18 अगस्त को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के नेता फैसल जावेद खान ने शुक्रवार को बताया कि पूर्व भारतीय क्रिकेटरों सुनील गावस्कर, कपिलदेव और नवजोत सिद्धू को शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा 1992 की वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्यों को भी इस मौके पर आने का न्यौता दिया गया है। इससे पहले भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने भी इमरान खान से मुलाकात की। उन्होंने पाकिस्तानी नेता को भारतीय क्रिकेट टीम के सभी सदस्यों के ऑटोग्राफ वाला बैट भेंट किया।

इससे पहले, इमरान खान ने चुनाव आयोग से मतदान की गोपनीयता भंग करने के मामले में बिना शर्त माफी मांग ली। एलेक्शन कमीशन ऑफ पाकिस्तान (ईसीपी) ने 3-1 से पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) प्रमुख की माफी स्वीकार कर ली। इससे इमरान के अगले सप्ताह प्रधानमंत्री पद के शपथ लेने की आखिरी बाधा भी खत्म हो गई। ईसीपी ने इस्लामाबाद एनए 53 संसदीय क्षेत्र से उनके विजयी होने की अधिसूचना भी जारी कर दी। इमरान खान ने यहीं पर सार्वजनिक रूप से बैलेट पेपर पर मुहर लगाई थी। इस बीच, भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने इमरान खान से मुलाकात की।

मुख्य चुनाव आयुक्त (अवकाश प्राप्त) जस्टिस सरदार मोहम्मद रजा, खान की माफी स्वीकार करने के पक्ष में नहीं थे, जबकि चुनाव आयोग के सिंध, बलूचिस्तान और खैबर-पख्तूनख्वा के आयुक्तों ने खान का माफीनामा स्वीकार किया। मुख्य निर्वाचन आयुक्त रजा की अध्यक्षता में हुई चार सदस्यीय पीठ की सुनवाई के दौरान इमरान खान ने लिखित माफी तथा हलफनामा दायर किया। आयोग ने खान से इस सबंध में लिखित में माफी मांगने को कहा था।

आयोग ने गुरुवार को इमरान खान के वकील बाबर ऐवान द्वारा दाखिल जवाब को स्वीकार करने से इऩकार कर दिया था। बाबर ऐवान ने कहा था कि उनके मुवक्किल ने जानबूझकर अपने मतपत्र पर सार्वजनिक रूप से मोहर नहीं लगाई थी। ऐवान ने साथ ही कहा था कि इस विवाद को अब खत्म किया जाए। उन्होंने आयोग से अपील की थी कि वह इमरान खान को एनए-53 इस्लामाबाद निर्वाचन क्षेत्र से विजयी घोषित करे। एनए-53 इस्लामाबाद संसदीय क्षेत्र में सार्वजनिक तौर पर मतपत्र पर मुहर लगाते हुए पाए जाने के बाद ईसीपी ने इसका स्वत: संज्ञान लिया था। इसके बाद मुख्य चुनाव आयुक्त की अध्यक्षता वाली चार सदस्यीय पीठ ने खान के खिलाफ मामले की सुनवाई की।

जवाब के मुताबिक इमरान के मतपत्र के फोटो उनकी अनुमति के बगैर लिए गए। गोपनयीता बरतने के लिए वोट डालने वाले स्थान के आसपास लगाए गए पर्दे मतदान केंद्र के अंदर भीड़ के कारण गिर गए थे। इमरान (65) ने एनए-53 इस्लामाबाद संसदीय सीट से पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के नेता शाहिद खाकान अब्बासी को 48,577 मतों से पराजित किया था।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.