Home दुनिया सामान्य पाकिस्तान एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, 107 थे सवार, 45 की मौत, तीन जिंदा निकले

पाकिस्तान एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, 107 थे सवार, 45 की मौत, तीन जिंदा निकले

आउटलुक टीम - MAY 22 , 2020
पाकिस्तान एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, 107 थे सवार, 45 की मौत, तीन जिंदा निकले
कराची एयरपोर्ट के पास पाकिस्तान एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, 107 थे सवार, मलबे से 34 शव निकाले गए
AP
आउटलुक टीम

पाकिस्तान के कराची में शुक्रवार को  जिन्ना अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास घनी आबादी वाले आवासीय क्षेत्र में विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में पायलट, क्रू मेम्बर्स सहित 107 लोग सवार थे। अभी तक मलबे से 45 शवों को निकाला जा चुका है जबकि तीन को जीवित निकाला गया है। हादसे को लेकर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख व्यक्त किया है। वहीं, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने जांच आदेश दिए हैं।

लाहौर से फ्लाइट्स पीके -8303 जब कराची में उतरने वाली थी, तब यह मालिर में मॉडल कॉलोनी के पास जिन्ना गार्डन इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। विमान की कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि पीआईए  एयरबस ए320 में 99 यात्री और क्रू आठ क्रू मेंबर थे।

मलबे से तीन जीवित निकले

सिंध के स्वास्थ्य मंत्री अजरा पीचुहो ने कहा कि 34 शवों को अब तक अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है। अब तक 19 शव जिन्ना अस्पताल और 15 सिविल अस्पताल में शिफ्ट किए गए थे। मंत्री ने कहा कि मलबे से तीन की जीवित निकाल लिया गया है। उन्होंने कहा, “लोगों को बचाने के लिए पहली प्राथमिकता है। मुख्य बाधा संकरी गलियों और आम लोगों की उपस्थिति के कारण आ रही है जो दुर्घटना के बाद वहां पर जगह पर इकट्ठा हो गए थे लेकिन उन्हें तितर-बितर कर दिया गया।”

एधी कल्याण ट्रस्ट के एक प्रवक्ता साद इधी ने कहा कि लगभग 25 से 30 निवासी जिनके घर विमान से क्षतिग्रस्त हो गए थे, उन्हें भी अस्पताल ले जाया गया है, जिनमें से ज्यादातर जल गए हैं। हादसे में बैंक ऑफ पंजाब के अध्यक्ष जफर मसूद बच गए। उन्होंने इसकी सूचना मां को फोन पर दी।

लैंडिग गियर में आई थी समस्या

पीआईए अधिकारी के अनुसार, कैप्टन ने एयर ट्रैफिक कंटोल को  राडार से विमान के गायब होने से पहले सूचना दी थी कि उसे लैंडिंग गियर में समस्या आ रही है।  देश में कोविड-19  महामारी के बीच वाणिज्यिक उड़ानों को सीमित संख्या में फिर से शुरू करने के करीब लगभग एक सप्ताह बाद यह बड़ी विमान दुर्घटना हुई।

 राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने विमान दुर्घटना में हुई जानमाल के नुकसान पर दुख और दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने कराची में पीआईए यात्री विमान दुर्घटना गहरा दुख व्यक्त करते हुए घटना की तत्काल जांच के आदेश दिए हैं। पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल क़मर जावेद बाजवा ने जानमाल के नुकसान पर शोक व्यक्त किया और सेना को बचाव और राहत प्रयासों में नागरिक प्रशासन को पूर्ण सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया।

घरों से निकाले गए शव

नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (सीएए)  ने कोरोनोवायरस महामारी के कारण लॉकडाउन के हफ्तों बाद पिछले शनिवार को घरेलू उड़ानों की सीमित बहाली की अनुमति दी जिसके बाद यह फ्लाइट लाहौर से कराची आ रही थी। टेलीविजन चैनलों ने बताया कि विमान के चलते घरों और कारों को नुकसान पहुंचा है। बचाव और राहत दल के अधिकारियों ने बताया कि क्षतिग्रस्त घरों से अब तक कम से कम चार शव बरामद किए गए हैं जबकि कई घायल लोगों को भी अस्पतालों में ले जाया जा रहा है।

यात्रियों को लेकर विरोधीभासी रिपोर्ट

हालांकि, विमान में सवार लोगों की सटीक संख्या के बारे में विरोधाभासी रिपोर्टें थीं। वरिष्ठ संयुक्त सचिव एविएशन सत्तार खोखर ने पाकिस्तान टेलीविजन को बताया कि विमान में 99 यात्री और चालक दल के आठ सदस्य सवार थे, लेकिन पीआईए के प्रवक्ता अब्दुल्ला हफीज ने कहा कि 91 यात्री और सात फ्लाइट क्रू सदस्य थे। विमान का 2.37 बजे हवाई अड्डे से संपर्क टूट गया, हफीज ने कहा, विमान के सामने आने वाली तकनीकी समस्याओं के बारे में कहना जल्दबाजी होगी।

पीआईए के अध्यक्ष अरशद मलिक ने कहा कि पायलट ने तकनीकी समस्या के बारे में कंट्रोल टॉवर को बताया। पायलट को सूचित किया गया कि लैंडिंग के लिए दो हवाई अड्डे उपलब्ध थे, उसने रांउंड लेने का फैसला किया और दुर्घटनाग्रस्त हो गया। सीएए ने कहा कि पाकिस्तान सेना और वायु सेना ने अपनी टीमों को बचाव और राहत कार्यों के लिए भेजा है। पीआई  के विमान को कैप्टन सज्जाद गुल उड़ा रहे थे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से