Home दुनिया एशिया प्रशांत कोरोना वायरस से चीन में अब तक 56 लोगों की मौत, 2000 मरीज पाए गए

कोरोना वायरस से चीन में अब तक 56 लोगों की मौत, 2000 मरीज पाए गए

आउटलुक टीम - JAN 26 , 2020
कोरोना वायरस से चीन में अब तक 56 लोगों की मौत, 2000 मरीज पाए गए
कोरोना वायरस से चीन में अब तक 56 लोगों की मौत, 2000 मरीज पाए गए
आउटलुक टीम

चीन में कोरोना वायरस से मरने वाली संख्या बढ़कर 56 हो गई है। चीन के अधिकारियों के अनुसार इस वायरस से 1975 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 324 लोगों की स्थित काफी गंभीर है। उधर, वुहान में 250 भारतीय छात्रों के फंसने पर भारत सरकार ने अपील की है कि उन्हें वापस आने दिया जाए।

हुबेई प्रांत के 18 शहरों में सबसे ज्यादा असर

नेशनल हेल्थ कमीशन के अनुसार नए तरह के निमोनिया के रूप में बताए गए इस वायरस का संक्रमण कुल 2684 लोगों में फैलने की आशंका है। हुबेई प्रांत के वुहान और 17 अन्य शहरों में इस वायरस का ज्यादा असर दिखाई दे रहा है। अधिकांश मौतें और और मरीज इन्हीं शहरों में मिले हैं। हुबेई प्रांत में 25 जनवरी को 323 नए मरीजों की पुष्टि हुई जबकि 13 लोगों की मौत हो गई। चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में 40 केस मिले हैं।

वुहान में दूसरा अस्थाई अस्पताल बनेगा

वायरस फैलने पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने कहा कि चीन गंभीर समस्या झेल रहा है। लेकिन उन्हें विश्वास है कि जल्दी ही इस बीमारी पर काबू पा लेंगे। एसएआरएस जैसे वायरस से संक्रमण पर काबू पाने के लिए चीन ने वुहान में 1300 बिस्तरों का एक अन्य अस्थाई अस्पताल अगले 15 दिनों में बनाने की घोषणा की है। इससे पहले ही 1000 बिस्तरों का एक अन्य अस्पताल दस दिनों में बनाया जा रहा है।

इन देशों में भी फैला वायरस

चीन के बाहर भी यह वायरस तेजी से फैल रहा है। हांगकांग, मकाऊ, ताईवान, नेपाल, जापान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड, वियतनाम और अमेरिका तक मरीज मिलने की खबरें आई हैं। शुक्रवार को जापान में दूसरे मरीज की पुष्टि हो चुकी है।

भारत की अपील- छात्रों को वुहान से वापस आने दें

चीन के वुहान में 250 भारतीय छात्रों के फंसने की खबर है। भारत सरकार ने चीन से अनुरोध किया है कि इन छात्रों को भारत आने की अनुमति दी जाए। चीन के वुहान और दूसरे शहरों को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। कोई व्यक्ति शहर से बाहर नहीं जा सकती है। सरकार ने यह कदम वायरस का संक्रमण रोकने के लिए उठाया है। इसी वजह से भारतीय छात्र भी फंस गए हैं। उससे पहले खबर थी कि सऊदी अरब के अस्पताल में केरल की एक नर्स संक्रमित हो गई। इसके अलावा वायरस के संक्रमण की आशंका के चलते 25 नर्सों को अलग रखा गया।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से