Home दुनिया अमेरिका अमेरिका में जल्द टिक टॉक हो सकता है बैन, चीन के खिलाफ 'डिजिटल स्ट्राइक' को तैयार ट्रंप

अमेरिका में जल्द टिक टॉक हो सकता है बैन, चीन के खिलाफ 'डिजिटल स्ट्राइक' को तैयार ट्रंप

आउटलुक टीम - AUG 01 , 2020
अमेरिका में जल्द टिक टॉक हो सकता है बैन, चीन के खिलाफ 'डिजिटल स्ट्राइक' को तैयार ट्रंप
अमेरिका में जल्द टिक टॉक हो सकता है बैन, चीन के खिलाफ 'डिजिटल स्ट्राइक' को तैयार ट्रंप
आउटलुक टीम

भारत की चीन के खिलाफ डिजिटल स्ट्राइक के बाद अब अमेरिका भी इसी तर्ज पर उसके खिलाफ एक्शन की तैयारी में है। भारत के टिक टॉक बैन करने के बाद अब अमेरिका जल्द ही अपने देश में टिक टॉक पर प्रतिबंध लगा सकता है। इसकी पुष्टि खुद अमेरिकी राष्ट्र डोनाल्ड ट्रंप ने की है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि उनका प्रशासन चीनी वीडियो शेयरिंग एप टिकटॉक पर प्रतिबंध लगा सकता है।

ट्रंप ने कहा कि हम टिक टॉक को देख रहे हैं, हम टिक टॉक पर प्रतिबंध लगा सकते हैं। हम कुछ अन्य चीजें कर रहे हैं, हमारे पास कुछ विकल्प हो सकते हैं...लेकिन हम टिकटॉक  के संबंध में बहुत सारे विकल्प देख रहे हैं। ट्रंप का बयान उन रिपोर्ट्स के बाद आया है जिसमें कहा गया था बाइट डांस टिक टॉक को बेच सकता है और कंपनी माइक्रोसॉफ्ट से इस बारे में बात भी कर रही है।  ट्रंप ने रिपोर्टर्स से बात करते हुए कहा कि हम टिक टॉक को देख रहे हैं। हम इसे बैन भी कर सकते हैं। हम कुछ और भी कर सकते हैं। हमारे पास कई दूसरे विकल्प भी हैं। बहुत सारी चीजें हो रही हैं, इसलिए हम देखेंगे कि क्या हो सकता है।

इससे पहले बुधवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा था कि अमेरिकी सरकार टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने के बारे में सोच रही है। ट्रंप से जब संभवतः चीनी आवेदन पर प्रतिबंध लगाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हम टिक टॉक को देख रहे हैं। हम एक निर्णय लेने के बारे में सोच रहे हैं। इससे पहले जुलाई में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा था कि ट्रंप सरकार, गोपनीयता से जुड़ी चिंताओं को लेकर टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है।

बता दें कि चीन से जुड़ी कंपनियों पर भारत सरकार की डिजिटल स्ट्राइक जारी है। भारत ने बीते हफ्ते चीन की 47 और ऐप बैन लगा दिया। इससे पहले भी भारत सरकार चीन के 59 ऐप बैन कर चुकी है, जिनमें टिक टॉक भी शामिल है। बाद में बैन किए गए ऐप्स में ज्यादातर क्लोनिंग वाले ऐप्स शामिल हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से