Home » दुनिया » अमेरिका » ‘अमेरिकी मीडिया ट्रंप का बेईमान विरोधी बन गया है’

‘अमेरिकी मीडिया ट्रंप का बेईमान विरोधी बन गया है’

MAY 17 , 2017

ट्रंप के बड़े समर्थक माने जाने वाले ‌गिंगरिच ने कहा, ‘मैं अमेरिकी न्यूज मीडिया से व्यक्तिगत रूप से नाराज हूं। मुझे लगता है कि ये विध्वंसकारी और घिनौना है और वर्तमान में ये देश के सामने एक बड़ा खतरा है।’ एक बयान में गिंगरिच ने कहा कि प्रेस को नजदीकी कॉफीशॉप में निर्वासित कर दिया जाना चाहिए और व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव को सीधे अमेरिकी जनता से सवाल आमंत्रित कर जवाब देना चाहिए। यही नहीं ट्रंप को मीडिया को एक बेईमान विरोधी मानना चाहिए जो कि रिपोर्टर होने का दिखावा करते हैं।

गिंगरिच ने इस बात पर जोर दिया कि अमेरिकी राष्ट्रपति को यह अधिकार है कि वह किसी भी गोपनीय दस्तावेज को सार्वजनिक कर दे। उन्होंने यह भी कहा कि सदियों से अमेरिकी राष्ट्रपति अपने सीने में दबी गोपनीय सूचनाओं को विदेशी अधिकारियों से साझा करते रहे हैं। वरिष्ठ अमेरिकी नेता ने कहा कि रिपोर्टरों को ऐसी कोई खबर नहीं छापनी चाहिए जिसके साथ वो सूत्र का नाम न दें सकें। ट्रंप की कम्युनिकेशन टीम को बेहतरीन करार देते हुए उन्होंने मीडिया से कहा, ‘तुम लोग पागल हो’। गिंगरिच ने कहा कि यहां ऐसे लोग हैं जो ये सब बकवास पढ़कर सोचते हैं कि हमें डरना चाहिए। आपके पास रक्षा क्षेत्र में मैट्टिस, केली और टिलरसन हैं और मुझे लगता है कि आइजनहावर के बाद यह सबसे अच्छी टीम है।

गौरतलब है कि खुद ट्रंप भी पहले यह कह चुके हैं अमेरिकी न्यूज मीडिया अमेरिकी जनता का दुश्मन है। इस आरोप को मीडिया ने बड़े पैमाने पर खारिज किया है। व्हाइट हाउस कॉरेस्पोंडेंट एसोसिएशन ने कहा है कि व्हाइट हाउस में मीडिया ब्रीफिंग को बंद करने से सरकार के स्तर पर जवाबदेही, पारदर्शिता और अमेरिकी जनता के उस अवसर में कटौती होगी जिसके तहत वो ये देखते हैं कि अमेरिकी व्यवस्‍था में कोई भी सवालों से ऊपर नहीं है। गौरतलब है कि ट्रंप पर गोपनीय जानकारी रूसी अधिकारियों के साथ साझा करने का आरोप लगा है और मीडिया ने ही इसकी खबर दी है। (एजेंसी)

Advertisement

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.