Home नज़रिया
नज़रिया

पाकिस्तानी विदेश मंत्री की कश्मीर पर बेलगाम बयानबाजी और इमरान खान की चुप्पी

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक संप्रभु देश के खिलाफ निंदा अभियान चलाने में कोई कसर...

अंतरिम के बहाने चुनावी आकांक्षाओं का बजट

यह गजब का संयोग है कि आम चुनाव के पहले तीन-चार महीने का लेखानुदान या अंतरिम बजट पेश करना ‘कार्यवाहक’...

चुनाव: जिताऊ उम्मीदवार माने खूब खर्चो

जैसे-जैसे 2019 के लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, देश में चुनावी चर्चा गरम हो रही है। जब चुनाव की चर्चा होती...

नागरिकता विधेयक 2019: असंवैधानिक, गैर-जरूरी और नितांत अभारतीय

नागरिकता किसी व्यक्ति का किसी राजनैतिक समुदाय के साथ संबंधों का ही नाम है। यह ऐसे समुदायों की पूर्ण और...

बस मोदी विरोध कहां जीतेगा

“मोदी सरकार के सत्ता में आने के पहले दिन से ही विरोधी दलों की खेमेबंदी शुरू हो गई” अगला लोकसभा चुनाव...

गठजोड़ों के गणित

“इस बार चुनाव तय करेंगे कि निर्णायक, मजबूत नेतृत्व चाहिए या साझा संतुलित नेतृत्व” नरेंद्र मोदी ने...

हसीना की जीत से उम्मीदें बढ़ीं

बांग्लादेश के लिए 30 दिसंबर 2018 ऐतिहासिक दिन था। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 11वें संसदीय चुनाव में एकतरफा...

गलत नीतियों से बढ़ा संकट

''आज के दौर में कर्जमाफी राजनैतिक नहीं बल्कि जरूरत भरा कदम, तभी मिलेगी किसानों को राहत” देश इस समय...

पुलिस राज की धमक तो नहीं

“सरकार की नई अधिसूचना पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों की ताकझांक पर अंकुश के मामले में मौन” जॉर्ज ऑरवेल...

साख संदिग्ध, भ्रामक संदेश

“नीति आयोग की दखल से सीएसओ पर भी सवाल, दुनिया चीन की तरह हमारे आंकड़ों पर भी करेगी संदेह” किसी भी देश...

केवल कोरी बातें, समाधान दूर

“बचाव के नाम पर हम जो उपाय अपना रहे हैं वे वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने में ज्यादा असरकारी...

बेरोजगारी, धीमी रफ्तार, एनपीए बड़ी चुनौती

“बैंक और एनबीएफसी क्षेत्र बड़े संकट में, अर्थव्यवस्‍था के कई बुनियादी क्षेत्रों को फौरी मदद की...

एमएसपी इजाफे पर टेढ़ी नजर

“डब्ल्यूटीओ के सदस्य देश खासकर अमेरिका ने हाल में भारत में न्यूनतम समर्थन मूल्य में इजाफे और बाजार...

संस्कृति, समाज, राजनीति, अपराध

आज भारतीय समाज गैर-मामूली संकटों से घिरा है और इससे उबरने के लिए उसे जिस राजनीतिक या सामाजिक नेतृत्व की...