Home नज़रिया
नज़रिया

किस दुनिया के सपने देखे, कहां पहुंचे!

“आज 'सुशिक्षित' जन लोकतंत्र से ऊब-से गए हैं, आजादी महानायक को समर्पित है” कुछ दिनों पहले किसी ने खाने...

सिकुड़ती मुक्ति भयाकांत स्वतंत्रता

“स्वतंत्रता के लिए जरूरी असहमति और अभिव्यक्ति की जगह कम होती जा रही है” हमारे यहां मुक्ति,...

मुश्किल भरी राह पर पहला कदम

क्या अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर को भारत से जोड़ने वाला पुल था, या यह ऐसी खाई थी जो जम्मू-कश्मीर को भारत से...

भारत से दूर होंगे कश्मीरी

आज मैं भविष्य को लेकर आशंकित और बेहद चिंतित हूं। सब कुछ एक झटके में खत्म हो गया है। जम्मू-कश्मीर राज्य...

अनुच्छेद 370 था संघीय ढांचे की शर्त

केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 में संशोधन कर दिया...

खत्म हुआ कश्मीरियों की अस्मिता का प्रतीक

जब देश आजाद हुआ तो मूलतः दो तरह के इलाके थे– रजवाड़े और वे हिस्से जिन पर अंग्रेजों का सीधा नियंत्रण था।...

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद क्या हो भविष्य की दिशा

5 अगस्त 2019 को मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति दिखाते हुए भारत सरकार ने अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया और संसद में...

उत्पीड़न के खिलाफ उठे आवाज तभी सुधरेगी पुलिस

“आम लोगों के मन में पुलिस की छवि क्रूर, पक्षपाती और भ्रष्टाचारी की मगर इसे दुरुस्त करने की फिक्र...

कानून नहीं तो पुलिस बेलगाम

अगस्त 2009 में मानवाधिकार संगठन ह्यूमन राइट्स वॉच ने अपनी रिपोर्ट ब्रोकन सिस्टम- डिसफंक्शन, एब्यूज ऐंड...

एनआइए को अधिक ताकत देने के मायने

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) संशोधन विधेयक को संसद के दोनों सदनों से मंजूरी मिल गई। इससे इस एलीट जांच...

आक्रामक और रचनात्मक नेतृत्व की जरूरत

कांग्रेस के निवर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे के दो बड़े मायने हैं। एक, यह इस्तीफा नहीं, बल्कि...

बैंकों के राष्ट्रीयकरण के 50 साल: क्या फिर से सरकार को पसंद आ रहा है प्राइवेट मॉडल

19 जुलाई 2019, यानी आज बैंकों के राष्ट्रीयकरण के 50 वर्ष पूरे हो रहे हैं। 19 जुलाई 1969 को तत्कालीन प्रधानमंत्री...

कांग्रेस का क्या है भविष्य?

देश की सबसे पुरानी पार्टी, कांग्रेस के शीर्ष पद से राहुल गांधी का इस्तीफा एक अध्याय की समाप्ति है। उनकी...

मोदी सरकार को विदेशी कर्ज के सहारे ग्रोथ का भरोसा

मोदी 2.0 सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था 2025 तक पांच ट्रिलियन डॉलर (350 लाख करोड़ रुपये) पर पहुंचाने का लक्ष्य...