खबरचक्र

तेजस्वी यादव
तेजस्वी यादव

जब तक किसानों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होती तब तक देश की प्रगति संभव नहीं है। देश की समृद्धि का रास्ता खेत-खलिहानों से होकर गुजरता है। किसानों की दशा सुधरेगी तो देश सुधरेगा

तेजस्वी प्रसाद यादव, राजद नेता

 

कश्मीर में गुपकर गठबंधन, भाजपा जम्मू में भी सिमटी

गुपकर गठबंधन

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद राज्य में जिला विकास परिषद के चुनाव हुए। भाजपा को उम्मीद थी कि वह न केवल जम्मू में अच्छा प्रदर्शन करेगी बल्कि कश्मीर में भी अच्छी खासी सीटें जीतेगी। लेकिन परिणाम कुछ और ही कहानी बयां कर रहे हैं। 280 सीटों वाली सीटों में भाजपा भले ही सबसे बड़े दल के रूप में उभरी हो लेकिन गुपकर गठबंधन से वह पीछे रह गई है। विकास परिषद चुनाव में भाजपा को 75 सीटें, गुपकार गठबंधन को 110 सीटें और कांग्रेस को 26 सीटें मिली हैं। बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए इन चुनावों में निर्दलीय उम्मीदवारों ने 49 सीटें जीती हैं। जम्मू में भाजपा ने छह जिला परिषदों में जीत हासिल की है। जबकि गुपकर गठबंधन को चार जिला परिषदों में जीत हासिल हुई है। इसी तरह, कश्मीर में गुपकर गठबंधन को नौ जिला परिषदों में जीत मिली है। भाजपा का गढ़ माने जाने वाले जम्मू इलाके में भी गुपकर गठबंधन ने सेंध लगा दी है। इस क्षेत्र की 140 सीटों में से भाजपा को 71 सीटें मिली हैं। वहीं गठबंधन के प्रमुख दल नेशनल कांफ्रेंस को 25 और पीडीपी को एक सीट मिली है। कांग्रेस 17 सीट जीतने में कामयाब रही है। वहीं कश्मीर घाटी में 140 सीटों के चुनाव में भाजपा को निराशा हाथ लगी है। भाजपा ने यहां 53 सीटों पर चुनाव लड़ा था और केवल तीन सीटें ही जीत पाई है। जबकि नेशनल कांफ्रेंस को 42 और पीडीपी को 26 सीटें मिली हैं। भाजपा ने वहां अपने केंद्रीय नेताओं की फौज उतारी हुई थी।

शेयर बाजार की उलटबांसी

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज

यूं तो शेयर बाजार को अर्थव्यवस्था की वास्तविक हालत का प्रतीक माना जाता है, लेकिन ‘कोविड वर्ष’ में यह रिश्ता उलट-पुलट हो गया। भारत की जीडीपी अप्रैल-जून में 23.9 फीसदी और जुलाई-सितंबर में 7.5 फीसदी घट गई। रिजर्व बैंक का अनुमान है कि पूरे वित्त वर्ष में विकास दर शून्य से 7.5 फीसदी कम रहेगी, लाखों छोटे कारोबार बंद हो गए, करोड़ों नौकरियां चली गईं, लेकिन शेयर बाजार रोजाना नई ऊंचाई छू रहा है। लॉकडाउन की घोषणा के बाद से अब तक यह करीब 80 फीसदी बढ़ चुका है। अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार का रिश्ता इसलिए भी टूटता लग रहा है कि जिस तिमाही जीडीपी में रिकॉर्ड गिरावट आई, उसमें बाजार 34 फीसदी चढ़ गया। औद्योगिक उत्पादन अप्रैल से अगस्त तक लगातार पांच महीने गिरा पर बाजार इससे अछूता रहा। दरअसल बाजार में तेजी विदेशी निवेशकों के दम पर है। वे इस वर्ष दो लाख करोड़ रुपये लगा चुके हैं। जब बाजार में ऐसा खुशनुमा माहौल हो, तो किसानों की फिक्र किसे होगी!

रांची में दौड़ीं तापसी पन्नू 

तापसी पन्नू     

 

पिंक, थप्पड़ और मुल्क जैसी फिल्मों से ख्याति अर्जित करने वाली सिने अभिनेत्री तापसी पन्नू रांची में मंझे हुए एथलीट की तरह दौड़ती नजर आईं। तापसी अपनी नई फिल्म रश्मि रॉकेट की शूटिंग के सिलसिले में रांची आई थीं। यह बेहद गरीब परिवार से आने वाली एक लड़की के इंटरनेशनल स्तर का एथलीट बनने की कहानी है। तापसी फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में करीब एक सप्ताह तक रांची में रहीं। फिल्म की शूटिंग रांची के मोरहाबादी मैदान में की गई। 2013 में तापसी ने चश्मेबद्दूर फिल्म से बॉलीवुड में इंट्री ली थी। इससे पहले 2010 में वे राघवेंद्र राव निर्देशित तेलुगू फिल्म झूमंडी नादम में काम कर चुकी थीं। कंप्यूटर साइंस से स्नातक तापसी का शुरू से मॉडलिंग की ओर रुझान था। शुरुआत में मॉडलिंग करने के बाद उन्होंने फिल्मी करिअर की शुरुआत की। आजकल रांची फिल्म निर्माताओं की पहली पसंद बनता जा रहा है। रश्मि रॉकेट से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर बनी फिल्म धोनी द अनटोल्ड स्टोरी की शूटिंग भी रांची में ही हुई थी। नेचरल लोकेशन और राज्य सरकार के सहयोग के चलते बहुत से निर्माता झारखंड को तरजीह दे रहे हैं।

राजगीर ग्लास फ्लोर ब्रिज

राजगीर ग्लास ब्रिज

बिहार के नालंदा में शीशे के फ्लोर वाला पुल लगभग तैयार है। अगले साल इस ब्रिज का उद्घाटन किया जाएगा। दो सौ फुट की ऊंचाई पर बना यह स्काइवॉक पर्यटकों के लिए खास तोहफा होगा। यह विश्व का तीसरा फ्लोर ब्रिज है। नालंदा में यह स्काइवॉक ग्लास फ्लोर ब्रिज नेचर सफारी में है। यहां से वैभारगिरि की दो चोटियों के बीच के नयनाभिराम दृश्य का आनंद लिया जा सकता है। 85 फुट लंबा, पांच फुट चौड़ा और 200 फुट ऊंचा यह ब्रिज 1.47 करोड़ रुपये में बना है। यहां करीब पांच सौ एकड़ भूमि में नेचर सफारी को विकसित किया गया है। कुछ दिनों पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की एक तस्वीर वायरल हुई थी, जिसमें वे एक ग्लास स्काइवॉक पर खड़े हैं। इस तस्वीर के आने के बाद इस स्काइवॉक के बारे में जानने की लोगों की दिलचस्पी बढ़ गई। दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद इस स्काइवॉक का मुआयना करने आए थे। यह स्काइवॉक उनके गृह जिले में है। उम्मीद है कि मार्च तक इस नेचर सफारी को पर्यटकों के लिए भी खोल दिया जाएगा। नीतीश कुमार ने कहा कि राजगीर मगध साम्राज्य की राजधानी रही है, हम इसके गौरव को वापस लाने का प्रयास कर रहे हैं। जू सफारी और नेचर पार्क पर्यटन के क्षेत्र में नया आयाम जोड़ेंगे। राजगीर में नालंदा विश्वविद्यालय, इंटरनेशनल स्टेडियम, स्पोर्ट्स एकेडमी जैसी बड़ी योजनाओं पर भी काम चल रहा है। अब ऐसे ग्लास स्काइवॉक के लिए लोगों को चीन जाने की जरूरत नहीं होगी। वे भारत में ही इसका आनंद उठा सकते हैं।

सुरेश रैना

सुरेश रैना

कोरोना नियमों का उल्लंघन कर पार्टी कर रहे पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना, गायक गुरु रंधावा और अभिनेता ऋतिक रोशन की पूर्व पत्नी, सुजैन खान समेत 34 सेलिब्रिटीज मुंबई में गिरफ्तार। नाइट कर्फ्यू के बाद भी क्लब में चल रही पार्टी पर पुलिस ने तड़के साढ़े तीन बजे छापा मारा।

बिशन सिंह बेदी

बिशन सिंह बेदी

फिरोजशाह कोटला मैदान पर डीडीसीए के दिवंगत अध्यक्ष अरुण जेटली की प्रतिमा लगाने के फैसले से खफा होकर दिग्गज स्पिनर ने क्रिकेट संघ की सदस्यता छोड़ी और दर्शक दीर्घा से अपना नाम हटाने को कहा है। डीडीसीए के मौजूदा अध्यक्ष और अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को लिखे पत्र में उन्होंने इस फैसले पर कड़ी आपत्ति जताते हुए अपनी नाराजगी जाहिर की।

शिंजो अबे

शिंजो अबे

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार के एक मामले में फंस गए हैं। पिछले अगस्त में खराब सेहत के चलते अबे ने इस्तीफा दे दिया था। आरोप है कि हर साल होने वाले चेरी ब्लॉसम डिनर के लिए संदिग्ध तरीके से पैसा जुटाया गया था। इस खर्च का कोई भी ब्योरा सार्वजनिक नहीं किया गया था। ऐसा करना नियमों का उल्लंघन है।

कदमों के निशां

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से