Home » खेल » टूर्नामेंट » देविंदर सिंह वर्ल्ड चैम्पियनशिप में जेवलिन थ्रो के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने

देविंदर सिंह वर्ल्ड चैम्पियनशिप में जेवलिन थ्रो के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने

AUG 11 , 2017
26 वर्षीय पंजाब के एथलीट देविंदर ने कंधे में चोट के बावजूद चैम्पियनशिप में गुरुवार को ग्रुप-बी के क्वालीफिकेशन राउंड के तीसरे और आखिरी थ्रो में कंग ने 84.22 मीटर दूर भाला फेंका।

भारत के देविंदर सिंह कंग ने लंदन में चल रही वर्ल्ड एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में  इतिहास रच दिया है। देविंदर वर्ल्ड एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के जेवलिन थ्रो के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। वहीं, नीरज चोपड़ा क्वालीफिकेशन राउंड से बाहर हो गए हैं।

Advertisement


26 वर्षीय पंजाब के एथलीट देविंदर ने कंधे में चोट के बावजूद चैम्पियनशिप में गुरुवार को ग्रुप-बी के क्वालीफिकेशन राउंड के तीसरे और आखिरी थ्रो में कंग ने 84.22 मीटर दूर भाला फेंका। कंग ने पहले और दूसरे थ्रो में क्रमश: 82.22 मीटर और 82.14 मीटर दूर भाला फेंका। फाइनल में पहुंचने वालों में कंग सातवें स्थान पर रहे। देविंदर को इस साल मई में हुई इंडियन ग्रैंड प्रिक्स से कंधे में चोट लग गई थी, इसके बावजूद उन्होंने फाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया।

इस बीच, नीरज चोपड़ा फाइनल राउंड में जगह नहीं बना सके। नीरज क्वालीफिकेशन राउंड में अपने तीनों ही थ्रो में भाला 83 मीटर तक नहीं फेंक सके। उनका सबसे अच्छा थ्रो पहली कोशिश में 82.26 मीटर रहा। 19 साल के वर्ल्ड जूनियर रिकॉर्डधारी नीरज का दूसरा थ्रो फाउल रहा जबकि तीसरी कोशिश में उन्होंने 80.54 मीटर थ्रो फेंका। बता दें कि नीरज का व्यक्तिगत बेस्ट थ्रो 86.48 मीटर है जबकि इस सीजन का उनका बेस्ट थ्रो 85.63 मीटर रहा है।

देविंदर सिंह की नजर अब 12 अगस्त को होने वाले फाइनल राउंड में मेडल जीतने पर होगी। बता दें कि ग्रुप 'ए' से पांच जबकि ग्रुप 'बी' से सात यानी कुल 13 एथलीटों ने फाइनल राउंड में जगह बनाई।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.