Home खेल इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की दावेदारी को लेकर द्रविड़ ने कही ये बड़ी बात

इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की दावेदारी को लेकर द्रविड़ ने कही ये बड़ी बात

FEB 02 , 2019
इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की दावेदारी को लेकर द्रविड़ ने कही ये बड़ी बात
इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़
File Photo

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने इस साल इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी 50 ओवरों के वर्ल्ड कप को लेकर बड़ी बात कही। उन्होंने कहा कि इसमें भारत जीत का प्रबल दावेदार है क्योंकि टीम इंडिया वर्ल्ड कप के समय अपनी फॉर्म के शीर्ष पर होगी।

भारतीय टीम इस समय शानदार क्रिकेट खेल रही है

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट ने राहुल द्रविड़ के हवाले से लिखा, 'मुझे लगता है कि भारतीय टीम इस समय शानदार क्रिकेट खेल रही है और वह विश्व कप में प्रबल दावेदार के रूप में जाएगी। उम्मीद है कि हम अगले कुछ महीनों में और आगे बढ़ेंगे। बता दें 1999 में इंग्लैंड में हुए 50 ओवरों के विश्व कप में राहुल द्रविड़ टॉप स्कोरर रहे थे, तब उन्होंने 461 रन बनाए थे।

भारतीय टीम के लिए अच्छा रहा था पिछला साल

उन्होंने कहा, पिछला साल भारतीय टीम के लिए अच्छा रहा था। उसने ना केवल ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज जीती बल्कि एशिया कप जीतनें में भी सफल रहा। उसकी विश्व कप ईयर 2019 में भी शुरुआत अच्छी रही। भारत ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को हराया और वो प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में अच्छी तैयारियों के साथ जाएगा।

इंग्लैंड में पिच बल्लेबाजों की मददगार हैं

इंडिया-ए और भारत की अंडर-19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि इंग्लैंड में पिच बल्लेबाजों की मददगार हैं और इसलिए टूर्नामेंट में हाई स्कोरिंग मैच होने की उम्मीद है। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज राहुल द्रविड़ने कहा, 'इंग्लैंड में विकेट फ्लैट रहेंगी और मुझे विश्व कप में हाई स्कोरिंग मैच की उम्मीद है। जब हम इंडिया-ए टीम के साथ इंग्लैंड में थे तब नियमित तौर पर स्कोर 300 के ऊपर जा रहा था।'

आप दो विश्व कप की तुलना नहीं कर सकते

द्रविड़ ने कहा, '1999 विश्व कप की तुलना में इस बार इंग्लैंड में ज्यादा रन बनेंगे, जब हमने सफेद ड्यूक गेंदों का इस्तेमाल किया था। सफेद कुकाबुरा की दो नई गेंदें, फील्डिंग नियमों में परिवर्तन इस बार हैं जो पहले 1999 में नहीं थे इसलिए आप दो विश्व कप की तुलना नहीं कर सकते।'

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से