Home खेल हॉकी हिमाचलः राष्ट्रीय महिला आइस हाकी का काजा कैंप में चल रहा है प्रशिक्षण, 16 जनवरी से शुरू होगी चैंपियनशिप

हिमाचलः राष्ट्रीय महिला आइस हाकी का काजा कैंप में चल रहा है प्रशिक्षण, 16 जनवरी से शुरू होगी चैंपियनशिप

अश्वनी शर्मा - JAN 06 , 2022
हिमाचलः राष्ट्रीय महिला आइस हाकी का काजा कैंप में चल रहा है प्रशिक्षण, 16 जनवरी से शुरू होगी चैंपियनशिप
राष्ट्रीय महिला आइस हाकीः काजा कैंप में चल रहा है प्रशिक्षण, 16 जनवरी से शुरू होगी चैंपियनशिप

लाहुल स्पीति के 11980 फुट की ऊंचाई पर स्थित काज़ा में आइस रिंक बनकर तैयार हो गया है। यहां महिला आइस हॉकी डेवलमेंट कैंप में प्रशिक्षण चल रहा है। इस कैंप में 80 के करीब महिला खिलाड़ी हिस्सा ले रही है। कैंप के साथ काजा में 16 जनवरी से 20 जनवरी 2022 तक राष्ट्रीय महिला आइस हाकी नेशनल चैंपियनशिप भी आयोजित होने जा रही है जिसमें हिमाचल प्रदेश सहित हैदराबाद, लेह, चंडीगढ़, दिल्ली और मुबई की टीमें हिस्सा लेगी।

आइस हॉकी के कोच अमित बेलबाल ने जानकारी देते हुए बताया कि कैंप में आईटीबीपी, हिमाचल प्रदेश, तेलगाना,लदाख की टीमें  हिस्सा ले रही हैं। खिलाड़ियों को तीन ग्रुप में बांटा गया है। खिलाड़ियों के स्किल के हिसाब से ग्रुप में रखा गया है। ग्रुप ए में अच्छी स्किल वाले, ग्रुप बी में कम स्किल वाले और ग्रुप सी में सबसे कम स्किल वाले खिलाड़ी रखे गए है। ताकि खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण  दिया जा सके। 

कैंप में नूरजहां गोली की कोचिंग दे रही है। इसके साथ ही भारतीय महिला आइस हॉकी टीम की कैप्टन छुचकित और पूर्व कैप्टन रिंगचिन है। सभी मिल कर यहां बच्चों को ट्रेनिंग दे रहे है। बच्चों में काफी उत्साह है और काफी बच्चे सीखने में रूचि ले रहे है। बच्चे हर बारीकी की जानकारी ले रहे हैं. कैंप में हर दिन दो सैशन होते है। 

तेलगाना से कैंप में आई खुशी ने बताया कि मैं अपनी टीम के साथ यहां पर आई हूं। हम वहां पर रोलर स्केटस इस्तेमाल करते है। लेकिन पहली बार यहां पर आईस स्केटस के साथ ट्रेनिंग ले रहे है। हमें काफी अच्छा लग रहा है। हमें बहुत ही अच्छा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यहां का तापमान काफी ठंडा होता है। हालांकि हमें इसकी आदत नहीं है।

लदाख से कैंप में आई स्कालजंग बुटिथ ने कहा कि काफी अच्छा लग रहा है। इससे पहले मैंने पिछले वाला नेशनल डेवलपमेंट कैंप लगाया था उसके बाद यहां पर चयन हुआ है। हमें यहां पर अच्छे से गोली कोचिंग मिल रहा है। हर सुविधा यहां पर अच्छी मिल रही है।

स्पिति की रहने वाली खिलाड़ी तेजिंन डोल्मा ने कहा कि हम काफी खुशनसीब है कि इस कैंप का आयोजन यहां पर हो रहा है। हमें काफी कुछ सीखने को मिल रहा है। अन्य राज्यों से भी टीमें यहां पर आई है। आइटीबीपी की टीम की खिलाड़ी दिकित ने बताया कि कैंप में बेहतरीन तरीके से सिखाया जा रहा है। यहां पर नेशनल खेलने का मौका भी मिलेगा।

आइस हॉकी एसोसियेशन आफ इंडिया के महासचिव हरजिंद्र जींदी कैंप में हिस्सा लेने के लिए काजा पहुंच गए है। बतौर मुख्यातिथि हरजिंद्र जींदी ने शिरकत की । एडीएम मोहन दत षर्मा ने उन्हें एसोसियेशन की तरफ से हुडी, कैप और बफ देकर सम्मानित किया। आइस हॉकी एसोसियेशन आफ इंडिया के महा सचिव हरजिंद्र जींदी कैंप  में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि स्पिति में पहली बार ऐसा आयोजन हो रहा है। देश में नारी सशक्तिकरण की तरफ बढ़ावा दिया जा रहा है। बेटियां खेलों में भी भारत का नाम रोशन करती है। उन्हें सही मंच सही समय पर मिलना जरूरी होता है। आइस हॉकी एसोसियेशन आफ इंडिया इसी तरह कैंप आयोजित करती है। एडीएम ने कहा कि ऐसे आयोजन से स्पिति में रोजगार, पर्यटन के साधन बढ़ेंगे। विंटर ओलम्पिक जैसे अंतराश्ट्रीय का आयोजन हो सकता है। इस मौके पर कैंप में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों एसोसियेशन की तरफ से हुडी , कैप और बफ वितरित किए गए।  

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से