Home खेल सामान्य टोक्यो पैरालंपिकः हाई जंप में मरियप्पन ने जीता सिल्वर, शरद को मिला ब्रॉन्ज मेडल, अब तक भारत को 10 मेडल

टोक्यो पैरालंपिकः हाई जंप में मरियप्पन ने जीता सिल्वर, शरद को मिला ब्रॉन्ज मेडल, अब तक भारत को 10 मेडल

आउटलुक टीम - AUG 31 , 2021
टोक्यो पैरालंपिकः हाई जंप में मरियप्पन ने जीता सिल्वर, शरद को मिला ब्रॉन्ज मेडल, अब तक भारत को 10 मेडल
टोक्यो पैरालंपिकः हाई जंप में मरियप्पन ने जीता सिल्वर, शरद को मिला ब्रॉन्ज मेडल, अब तक भारत को 10 मेडल
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

टोक्यो पैरालंपिक में मंगलवार को हाई जंप में एक  साथ दो मेडल मिले। मरियप्पन थंगावेलु ने सिल्वर मेडल जीता, जबकि शरद कुमार को कांस्य मिला। पुरुषों की ऊंची कूद टी63 स्पर्धा में मरियप्पन ने 1.86 मीटर, जबकि शरद ने 1.83 मीटर की कूद लगाई। अमेरिका के सैम क्रू गोल्ड मेडल (1.88) जीतने में कामयाब रहे।  

भारत के पदकों की संख्या 10 तक पहुंच गई है। भारत के खाते में अब 2 स्वर्ण, 5 रजत और 3 कांस्य पदक हैं। यह पैरालंपिक के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। रियो पैरालंपिक (2016) में भारत ने 2 गोल्ड सहित 4 पदक जीते थे।

हाई जंप में भारत के अब तीन पदक हो गए। इससे पहले भारत के निषाद कुमार ने रविवार को पुरुषों की ऊंची कूद टी47 स्पर्धा में एशियाई रिकॉर्ड के साथ रजत पदक जीता था। स्पर्धा में हिस्सा ले रहे तीसरे भारत और रियो 2016 पैरालंपिक के कांस्य पदक विजेता वरुण सिंह भाटी 9 प्रतिभागियों में 7वें स्थान पर रहे, वह 1.77 मीटर की मीटर की कूद लगाने में नाकाम रहे।

टी42 वर्ग में उन खिलाड़ियों को रखा जाता है, जिनके पैर में समस्या है, पैर की लंबाई में अंतर है, मांसपेशियों की ताकत और पैर की मूवमेंट में समस्या है. इस वर्ग में खिलाड़ी खड़े होकर प्रतिस्पर्धा पेश करते हैं। मरियप्पन और शरद को पीएम  नरेंद्र मोदी ने बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट किया - ऊंची और ऊंची उड़ान! मरियप्पन थंगावेलु निरंतरता और उत्कृष्टता के पर्याय हैं, रजत पदक जीतने पर उन्हें बधाई. भारत को उनके इस कारनामे पर गर्व है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से