Home खेल सामान्य दिल्ली एयरपोर्ट पर शूटर मनु भाकर ने लगाया बदसलूकी का आरोप, एयर इंडिया ने दी सफाई

दिल्ली एयरपोर्ट पर शूटर मनु भाकर ने लगाया बदसलूकी का आरोप, एयर इंडिया ने दी सफाई

आउटलुक टीम - FEB 20 , 2021
दिल्ली एयरपोर्ट पर शूटर मनु भाकर ने लगाया बदसलूकी का आरोप, एयर इंडिया ने दी सफाई
दिल्ली एयरपोर्ट पर मनु भाकर द्वारा बदसलूका का आरोप गलत, अधिकारियों ने किया खंडन
file photo
आउटलुक टीम

कॉमनवेल्थ गेम्स और यूथ ओलंपिक में गोल्ड मेडल लाने वाली इंडियन शूटर मनु भाकर ने शुक्रवार को दिल्ली एयरपोर्ट पर कथित रूप से परेशान करने और अपमानित करने का आरोप लगाया है। उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। विवाद बढ़ा तो एयर इंडिया ने अपने कर्मचारियों के व्यवहार के लिए माफी मांगी है। इस दौरान सोशल मीडिया पर ट्वीटर वार छिड़ गई।

19 फरवरी को मनु दिल्ली से भोपाल ट्रेनिंग के लिए जा रही थीं। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि उन्हें एयर इंडिया ने फ्लाइट में चढ़ने से रोक दिया है और पैसे मांगने का आरोप भी लगाया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आईजीआई दिल्ली से भोपाल मैं ट्रेनिंग के लिए शूटिंग अकेडमी जा रही हूं, जिसके लिए मुझे गन वगैरह की जरूरत है। मैं एयर इंडिया के अधिकारियों से अनुरोध करती हूं कि वे खिलाड़ियों का थोड़ा-सा सम्मान करें, हर बार की तरह अपमान ना करें। मुझसे पैसे ना मांगे, मेरे पास डीजीसीए की परमीशन है।

मनु के इस ट्वीट के जवाब में एयर इंडिया ने लिखा, मैम हमने डिटेल्स लिख ली हैं, हमें थोड़ा समय दीजिए, जिससे हम दिल्ली एयरपोर्ट टीम को सूचित कर सकें। बता दें कि मनु के सपोर्ट में अन्य खिलाड़ी ने भी ट्वीट किया और उनको ट्रेनिंग के लिए शुभकामनाएं दी।

पूर्व अंतरराष्ट्रीय जसपाल राणा द्वारा प्रशिक्षित युवा निशानेबाज ने ट्वीट किया कि उन्हें एयर इंडिया के अधिकारियों द्वारा परेशान किया जा रहा था और उन्हें उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी जा रही थी। इतना ही नहीं मनु भाकर ने खेल मंत्री किरेन रिजिजू और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी को भी ट्रैग कर अपनी 'दुर्दशा' के बारे में बताया।

शुक्रवार रात एयरपोर्ट पर तैनात एयर इंडिया के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मनु नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा जारी किया पत्र नहीं रखी थी, जो शूटरों को अपनी बंदूकें और गोलियां ले जाने की अनुमति देता है।

यह एयर इंडिया के मानक संचालन प्रोटोकॉल का हिस्सा है, जिसमें कैंप या टूर्नामेंट में उपयोग किए जाने वाले स्पोर्ट्स गियर्स के अतिरिक्त सामान को केवल तभी मुफ्त में मंजूरी दी जा सकती है, जब एथलीट संबंधित राष्ट्रीय महासंघ से एक वैध पत्र मिले अन्यथा यह 5,000 रुपये प्रति उपकरण प्लस जीएसटी है।

एनआरएआई अधिकारियों ने आउटलुक को पुष्टि की कि 19 वर्षीय मनु पास पत्र नहीं था और केवल एयर इंडिया के अधिकारियों ने उसे हवाई अड्डे पर रोक दिया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से