Home खेल सामान्य पांड्या और केएल राहुल के साथ नहीं विराट कोहली, महिलाओं पर विवादित बयान को बताया गलत

पांड्या और केएल राहुल के साथ नहीं विराट कोहली, महिलाओं पर विवादित बयान को बताया गलत

आउटलुक टीम - JAN 11 , 2019
पांड्या और केएल राहुल के साथ नहीं विराट कोहली, महिलाओं पर विवादित बयान को बताया गलत
पांड्या और केएल राहुल के साथ नहीं विराट कोहली, महिलाओं पर विवादित बयान को बताया गलत
File Photo

एक टीवी शो में टीम इंडिया के खिलाड़ी हार्दिक पंड्या और केएल राहुल द्वारा की गईं टिप्पणियों पर अब कप्तान विराट कोहली का बयान भी सामने आ गया है। कोहली ने पंड्या के बयान का समर्थन नहीं किया लेकिन यह भी कहा कि इस सबके बावजूद उनकी टीम के प्रति जो भावना है उसमें कमी नहीं आएगी।

प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय ने दोनों क्रिकेटर्स पंड्या और राहुल पर 2 वनडे मैचों का बैन लगाने की सिफारिश की है, जिसकी वजह से यह साफ नहीं है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शनिवार से शुरू हो रही वनडे सीरीज में इन्हें जगह मिल पाएगी या नहीं।

हम उनके बयान और विचारों से इत्तेफाक नहीं रखते: कोहली

ऑस्ट्रेलिया में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शुक्रवार को विराट कोहली ने कहा, 'भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा होने और जिम्मेदार क्रिकेटर होने के नाते हम उनके बयान और विचारों से इत्तेफाक नहीं रखते। वह उनके निजी विचार हैं।' यह भावना को प्रभावित नहीं कर सकता है। निर्णय आने के बाद टीम कॉम्बिनेशन पर विचार किया जाएगा।

कोहली ने आगे कहा कि टीम इंडिया के नजरिए से देखें तो चेंजिंग रूम में हमारे व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आएगा। बातचीत में कोहली ने यह भी कहा कि उनका फोकस फिलहाल वर्ल्ड कप पर है।

BCCI ने पंड्या और केएल राहुल को थमाया नोटिस

बीसीसीआई ने बुधवार को भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल को 'कॉफी विद करण' शो में महिलाओं पर उनके कमेंट्स के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था। शो में महिलाओं पर की गईं पंड्या की टिप्पणियों के लिए बोर्ड ने दोनों से 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा था।

दो मैचों के लिए पांड्या-राहुल पर लग सकता है बैन

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में वनडे सीरीज का पहला मैच शनिवार को खेला जाना है। इससे ठीक पहले पांड्या और राहुल ने एक टीवी शो में महिलाओं से जुड़ा एक विवादित बयान दे दिया। इसके बाद दोनों खिलाड़ियों की काफी आलोचना हुई। यहां तक की सीओए प्रमुख विनोद राय ने दोनों पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश तक कर दी। जब कि डायना इडुल्जी ने कानूनी सलाह की मांग की। हालांकि अभी तक इन दोनों खिलाड़ियों पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। कोहली ने यह भी साफ किया कि दोनों को टीम में लेने का फैसला सीओए के निर्णय के बाद ही लिया जाएगा।  

पंड्या की टिप्पणियां शर्मिंदगी भरी: बीसीसीआई

बीसीसीआई ने शो में की गई पंड्या की टिप्पणियों को ‘मूर्खतापूर्ण और शर्मिंदगी भरा’ बताया था। साथ ही, उन्हें चेतावनी दी। बोर्ड इस प्रकार के चैट शो में खिलाड़ियों के शामिल होने पर प्रतिबंध लगाने पर भी विचार कर रहा है। बीसीसीआई यदि ऐसा फैसला लेता है तो क्रिकेटर्स भविष्य में किसी भी चैट शो में भाग नहीं ले पाएंगे। बीसीसीआई का काम देख रही प्रशासकों की समिति (सीओए) के चेयरमैन विनोद राय ने बताया था, ‘हमने हार्दिक पंड्या और केएल राहुल को उनकी टिप्पणियों के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। उन्हें अपनी सफाई पेश करने के लिए 24 घंटे का समय दिया गया है।’

पंड्या ने दी थी ये सफाई 

इस पहले, पंड्या ने साफ किया कि उनका किसी की भावानएं आहत करने का इरादा नहीं था। उन्होंने ट्वीट किया, ‘कॉफी विद करण में मेरी टिप्पणी के बाद बाद प्रतिक्रियाएं आईं। मेरे बयान से जिनकी भी भावनाएं आहत हुईं हैं, मैं उन सभी लोगों से माफी मांगना चाहता हूं।’ उन्होंने लिखा, ‘ईमानदारी से, मैं शो के नेचर के मुताबिक उसमें ज्यादा बह गया। मेरा मतलब किसी भावनाओं का अपमान करना या उन्हें आहत करना नहीं था। रिसपेक्ट।’

क्या है मामला

करण जौहर के शो के दौरान पंड्या ने कई महिलाओं के साथ संबंध होने का दावा किया। उन्होंने बताया कि वे अपने माता-पिता से बहुत ज्यादा खुले हुए हैं। यहां तक कि वे उन्हें अपनी वर्जिनिटी खोने वाली बात भी बता चुके हैं। जब उनसे पूछा गया कि वे क्लब में किसी महिला का नाम क्यों नहीं पूछते तो पंड्या ने जवाब दिया, ‘मुझे उन्हें देखना पसंद है। मैं यह देखना चाहता हूं कि वे किस तरह चलती हैं।’ इसके बाद सोशल मीडिया पर पंड्या की आलोचना होने लगी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से