Home खेल क्रिकेट युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी: कपिल देव

युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी: कपिल देव

आउटलुक टीम - JUN 12 , 2019
युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी: कपिल देव
युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी: कपिल देव
आउटलुक टीम

दिग्गज क्रिकेटर और 1983 की वर्ल्ड कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव ने कहा कि वह जब भी सर्वकालिक महान भारतीय एकदिवसीय क्रिकेटरों की टीम बनाएंगे तो उसमें हरफनमौला युवराज सिंह को जरूर जगह मिलेगी। साथ ही उन्होने यह भी कहा कि बांए हाथ के कलात्मक बल्लेबाज को मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी। 2011 विश्व कप के नायक को विदाई खेल क्यों नहीं मिला, इस पर न तो युवराज और न ही बीसीसीआई ने कोई बात की।

दो विश्व कप में रहा अहम योगदान

भारत की तरफ से वेस्टइंडीज के खिलाफ जून 2017 में अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले युवराज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से 17 साल बाद सोमवार को मुंबई में संन्यास की घोषणा की थी। अपने 17 साल के अंतरराष्ट्रीय करिअर के दौरान उन्होंने 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप और और 2011 में एकदिवसीय वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम में अहम योगदान दिया था। युवराज ने भारत की तरफ से 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने टेस्ट मैचों में 1900 और वनडे में 8701 रन बनाए। टी-20 अंतरराष्ट्रीय में उनके नाम पर 1177 रन दर्ज हैं।

हमेशा रहेंगे मेरी टीम में

फैंटसी खेल ‘अपने 11’ के लॉन्च के लिए पहुंचे कपिल ने कहा कि युवराज कमाल के क्रिकेटर हैं और मैं जब भी भारत के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों की एकदिवसीय टीम बनाऊंगा तो वह उस में जरूर होंगे। भारत को 1983 में पहली बार विश्व चैम्पियन बनाने वाले इस पूर्व कप्तान ने कहा कि युवराज को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी। 

इन दिग्गजों को भी नहीं मिला विदाई मैच

युवराज भी उन भारतीय दिग्गजों में शामिल हो गए हैं जिन्हें विदाई मैच नहीं मिला था, जिनमें वीरेंद्र सहवाग, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण और गौतम गंभीर शामिल हैं।

युवाओं को हमेशा किया प्रेरित

कपिल ने कहा कि युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी। कम से कम मैं ऐसा देखना चाहता था। उन्होंने अपने खेल से युवाओं को दीवाना बनाया। हमारे देश को ऐसे नायकों की जरूरत है जो आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित कर सके। उन्हें पता चल सके कि युवराज ने अपनी जिंदगी में क्या झेला है। मैं युवराज को आगे की जिंदगी के लिए शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करूंगा कि उन्होंने क्रिकेट में जो किया अपनी आने वाली जिंदगी में इससे और बेहतर करें।

हार्दिक पंड्या को भी सराहा

भारत के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर माने जाने वाले इस खिलाड़ी ने हार्दिक पंड्या को टीम के लिए समर्पित खिलाड़ी करार देते हुए कहा कि वह चाहेंगे कि उनकी किसी से तुलना ना की जाए। पूर्व वर्ल्ड चैंपियन कैप्टन ने कहा कि मैं यह चाहता हूं कि आप कभी भी उनकी तुलना ना करें, मैं तो यहीं चाहूंगा कि वह मुझसे भी बेहतर खेले। उनमें इतनी काबिलियत है और अगर वह पिछले मैच की तरह खेलते रहे तो आपको उनसे मेरी तुलना करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। कपिल ने उम्मीद जताई की पंड्या अपनी गेंदबाजी में और सुधार करेंगे। उन्होंने कहा कि वह बल्लेबाजी अच्छी कर रहे हैं। मैं उम्मीद करूंगा कि वह अपनी गेंदबाजी में सुधार जारी रखें। वह टीम के लिए समर्पित हैं और यह काफी जरूरी है।

(एजेंसी इनपुट)

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से