Home खेल क्रिकेट वसीम अकरम की आईसीसी को सलाह, कहा- टी-20 विश्व कप के लिए सही समय का करें इंतजार

वसीम अकरम की आईसीसी को सलाह, कहा- टी-20 विश्व कप के लिए सही समय का करें इंतजार

आउटलुक टीम - JUN 05 , 2020
वसीम अकरम की आईसीसी को सलाह, कहा- टी-20 विश्व कप के लिए सही समय का करें इंतजार
वसीम अकरम की आईसीसी को सलाह, कहा- टी-20 विश्व कप के लिए सही समय का करें इंतजार
File Photo
आउटलुक टीम

पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज वसीम अकरम दर्शकों के बिना टी-20 विश्व कप के पक्ष में नहीं हैं। उनका मानना है कि कोरोना वायरस महामारी पर काबू पाने के बाद आईसीसी को इस टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए उचित समय का इंतजार करना चाहिए। ऐसी अटकलें हैं कि कोरोना महामारी के कारण जारी यात्रा प्रतिबंधों के चलते ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाला टी-20 विश्व कप स्थगित किया जा सकता है।

दर्शकों के बिना नहीं बनेगा माहौल 

वसीम अकरम ने 'द न्यूजसे कहा, ''निजी तौर पर मुझे यह सही नहीं लगता। दर्शकों के बिना विश्व कप कैसे हो सकता है।'' उन्होंने कहा, ''विश्व कप का मतलब है- खचाखच भरे स्टेडियम। दुनिया भर से दर्शक अपनी टीमों के समर्थन के लिए आते हैं। यह सब माहौल की बात है और दर्शकों के बिना क्या माहौल बनेगा।'' अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद टी-20 विश्व कप को लेकर 10 जून को फैसला लेगी। अकरम ने कहा, ''मेरा मानना है कि आईसीसी को सही समय का इंतजार करना चाहिए। एक बार इस महामारी पर काबू आ जा और यात्रा की पाबंदियां हट जाए तो विश्व कप अच्छे से होगा।''

गेंद पर लार के इस्तेमाल पर कही ये बात

गेंद पर लार के इस्तेमाल पर रोक के मसले को लेकर उन्होंने कहा कि आईसीसी को इसक समाधान जल्दी निकालना होगा। उन्होंने कहा, ''तेज गेंदबाजों को लार के इस्तेमाल पर रोक पसंद नहीं आएगी। पसीने से वह बात नहीं आ पाती। ज्यादा पसीने से गेंद गीली हो जाएगी। आईसीसी को इसका त्वरित समाधान निकालना होगा।''

कई खिलाड़ी मांग रहें हैं इसका विकल्प

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह सहित पूर्व और वर्तमान क्रिकेटरों से लार के विकल्प के लिए लगातार बोल रहे हैं। श्रीलंका के गेंदबाजों ने भी कहा है कि वे अपने पहले प्रशिक्षण सत्र के बाद लॉकडाउन के बाद गेंद को चमकाने के लिए पसीने से ज्यादा लार का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं।

आपको बता दें कि कोरोनावायरस से संक्रमित हुए लोगों का वैश्विक आंकड़ा बढ़कर 67 लाख के पार पहुंच चुका है। वहींमहामारी की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या लाख 93 हजार से अधिक हो गई है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से