Home खेल क्रिकेट आईपीएल के फाइनल मैच में मुंबई के ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड पर लगा 25% जुर्माना

आईपीएल के फाइनल मैच में मुंबई के ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड पर लगा 25% जुर्माना

आउटलुक टीम - MAY 13 , 2019
आईपीएल के फाइनल मैच में मुंबई के ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड पर लगा 25% जुर्माना
आईपीएल के आखिरी मैच में मुंबई के ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड लगा 25% जुर्माना
आउटलुक टीम

मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड पर रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल फाइनल के दौरान अंपायरिंग के फैसले पर असंतोष जताने के लिए मैच फीस का 25% जुर्माना लगाया गया है। अंपायर के फैसले पर वे बोले तो कुछ नही, लेकिन फैसले का मजाक उड़ाते हुए वाइड-लाइन के पास पहुंच गए और स्ट्राइक ली।

पोलार्ड ने खिलाड़ियों और टीम अधिकारियों के लिए आईपीएल आचार संहिता के स्तर एक अपराध 2.8 को स्वीकार किया। आईपीएल आचार संहिता के स्तर एक के उल्लंघन के लिए, मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ का निर्णय अंतिम और बाध्यकारी था।

यह था सारा मामला

मैच रेफरी ने उनकी इस हरकत को खेल भावना के विपरीत मानते हुए जुर्माना लगाया। मुंबई-चेन्नै के बीच आईपीएल का फाइनल 12 मई को खेला गया। इसी दिन पोलार्ड का जन्मदिन भी था। मुंबई इंडियंस की पारी का आखिरी ओवर ड्वेन ब्रावो कर रहे थे। उनके गेंद फेंकने से पहले पोलार्ड लेग से ऑफ स्टम्प की तरफ आ गए। ब्रावो ने गेंद और बाहर फेंक दी। गेंद क्रीज बॉक्स के बाहर पिच हुई। नियमों के मुताबिक वाइड दी जानी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

पोलार्ड इससे नाराज हुए लेकिन कुछ कहा नहीं। ब्रावो जब अगली गेंद फेंकने आए तो पोलार्ड ऑफ स्टम्प के बहुत बाहर खड़े हो गए। ब्रावो रनअप ले रहे थे। उसी दौरान पोलार्ड ऑफ स्टम्प छोड़ते हुए पिच एरिया से बाहर निकल गए।

2015 में भी अंपायर्स से हुई थी कहा-सुनी

पोलार्ड की इस हरकत को दोनों अंपायर ने खेल भावना और नियम विरुद्ध पाया। पोलार्ड को बुलाया और काफी देर उनसे बातचीत की। इसके पहले पोलार्ड ने बल्ला हवा में उछाल दिया था। हालांकि, पारी की आखिरी यानी पांचवीं और छठवीं गेंद पर पोलार्ड ने लगातार दो चौके लगाए और टीम का स्कोर 149 तक पहुंचाया। पोलार्ड ने महज 25 गेंदों में तीन चौके और तीन छक्के लगाते हुए नाबाद 41 रनों की पारी खेली। इससे पहले भी पोलार्ड को 2015 में अंपायर्स ने मैदान पर शांत रहने की सलाह दी थी। इसके बाद वह मैदान पर मुंह पर टेप लगाकर आए थे। उनकी इस हरकत की कई लोगों ने आलोचना की थी। 

धोनी और विराट भी अंपायरों के फैसले से नाराज हो चुके हैं

इस आईपीएल में खिलाड़ियों और अंपायरों के बीच तनातनी काफी रही है। इससे पहले विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी भी दो बार अंपायरों के फैसले से नाराज हो चुके हैं। अंपायर नाइजल लॉन्ग तो विराट से बहस के बाद इतने नाराज हो गए थे कि उन्होंने अंपायर रूम का गेट ही तोड़ दिया था। बाद में उन्होंने हर्जाना भी भरा था।

मुंबई ने चौथी बार जीता आईपीएल का खिताब

हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए इस आखिरी गेंद तक चले रोमांचक फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने 8 विकेट खोकर 149 रन बनाए। जवाब में चेन्नई 148 रन ही बना सकी। इसी के साथ ही मुंबई चार बार आईपीएल का खिताब जीतने वाली पहली टीम भी बन गई है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से