Home खेल क्रिकेट क्रिकेट में इस समय मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर, इसकी उपेक्षा नहीं होनी चाहिए: विराट कोहली

क्रिकेट में इस समय मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर, इसकी उपेक्षा नहीं होनी चाहिए: विराट कोहली

आउटलुक टीम - JUN 02 , 2021
क्रिकेट में इस समय मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर, इसकी उपेक्षा नहीं होनी चाहिए: विराट कोहली
क्रिकेट में इस समय मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर, इसकी उपेक्षा नहीं होनी चाहिए: विराट कोहली
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर खेल में मानसिक स्वास्थ्य के महत्व पर जोर दिया है, क्योंकि उनकी टीम एक और लंबे दौर के लिए बायो-बबल में प्रवेश करने वाली है। उन्होंने कहा है कि क्रिकेट में इस समय मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर है, इसलिए इसकी उपेक्षा नहीं की जानी चाहिए।

भारतीय टीम को इंग्लैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जून से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलने के लिए गुरुवार को इंग्लैंड रवाना होना है। विराट ने इंग्लैंड के लिए रवाना होने से एक दिन पूर्व बुधवार काे प्रेस वार्ता के दौरान यह स्वीकार किया कि दुनिया भर में मौजूदा कोरोना महामारी स्थिति के कारण  लंबे दौरों पर होटल के कमरों और  मैदान के बीच बंद होने की एकरसता के बीच खिलाड़ियों के लिए प्रेरित रहना मुश्किल होता है।

भारतीय कप्तान ने कहा, “ सच कहूं तो वर्तमान में जिस तरह की संरचना के साथ हम प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं, उस हिसाब से खिलाड़ियों के लिए एक लंबी अवधि तक प्रेरित रहना और सही प्रकार का मानसिक स्थान ढूंढना बहुत मुश्किल है। केवल एक क्षेत्र में सीमित रहना और दिन भर एक ही चीज करना बहुत मुश्किल होता है। मुझे लगता है कि इस समय क्रिकेट में मानसिक स्वास्थ्य एक बड़ा फैक्टर है , जिसकी उपेक्षा नहीं की जानी चाहिए, क्योंकि हमने इस टीम को बनाने के लिए जितनी मेहनत की है, आप नहीं चाहते कि खिलाड़ी मानसिक दबाव के कारण बाहर हो जाएं और उनके पास खुद को व्यक्त करने की क्षमता या जगह भी न हो।”

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से