Home खेल क्रिकेट पुलवामा हमले को ध्यान में रखते हुए कोहली, सहवाग और गंभीर का सम्मान समारोह हुआ रद्द

पुलवामा हमले को ध्यान में रखते हुए कोहली, सहवाग और गंभीर का सम्मान समारोह हुआ रद्द

आउटलुक टीम - MAR 12 , 2019
पुलवामा हमले को ध्यान में रखते हुए कोहली, सहवाग और गंभीर का सम्मान समारोह हुआ रद्द
पुलवामा हमले को ध्यान में रखते हुए कोहली,सहवाग और गंभीर का सम्मान समारोह हुआ रद्द
आउटलुक टीम

दिल्ली और जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) ने भारतीय कप्तान विराट कोहली, पूर्व ओपनर्स वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर को सम्मानित करने का कार्यक्रम रद्द कर दिया है। डीडीसीए ने यह फैसला पुलवामा हमले को ध्यान में रखते हुए लिया। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। डीडीसीए ने भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच पांचवें वनडे से पहले दिल्ली के इन तीनो खिलाड़ियों को सम्मानित करने का फैसला किया था।

 बीसीसीसीआई से प्रेरित होकर लिया फैसला

डीडीसीए का यह फैसला बीसीसीआई से प्रेरित है। बीसीसीआई ने आईपीएल के उद्घाटन समारोह को रद्द कर दिया है। बोर्ड उस कार्यक्रम में खर्च होने वाली राशि को शहीदों के परिजनों के कल्याण के लिए खर्च करेगा। डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने सोमवार को कहा, 'हमारी सहवाग, गंभीर और कोहली को सम्मानित करने की योजना थी लेकिन अब हमने इसको टॉल दिया है, क्योंकि बीसीसीआई भी आईपीएल का उद्घाटन समारोह नहीं कर रहा है।' इसके पहले बीसीसीआई ने भी आईपीएल ओपनिंग सेरेमनी को रद्द कर उस कार्यक्रम में खर्च होने वाली राशि को शहीदों के परिजनों के कल्याण के लिए खर्च करने का फैसला लिया था।

 शर्मा ने कहा कि दिल्ली में होने वाले मैच कि अब तक 90 प्रतिशत टिकटों की बिक्री हो चुकी है। डीडीसीए ने इस मैच में राज्य के पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को वीआईपी पास देने का फैसला किया है। भारत-ऑस्ट्रेलिया के पांच वनडे मैचो की सीरीज का आखिरी मैच 13 मार्च को नई दिल्ली में खेला जाना है। दोने टीमें 2-2 मैच जीतकर सीरीज में बराबरी पर है बुधवार को आखिरी मुकाबला निर्णायक साबित होगा।

बाकी मैदानो से अलग है कोटला

ओस को ध्यान में रखते हुए कोहली ने रांची में पहले गेंदबाजी की और मोहाली में पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन इसके बावजूद दोनों दिन परिणाम उलट आये। जब भारत ने रांची में पीछा किया तब सूखा था लेकिन ओस ने चौथे वनडे में ऑस्ट्रेलिया का पीछा करने में मदद की और भारतीय गेंदबाजों को गेंद को पकड़ने के लिए संघर्ष करना पड़ा, यही कारण था की 358 जैसे विशाल स्कोर के बाद भी भारत मैच हार गया।

फिरोज शाह कोटला मैदान में, विकेट आमतौर पर नीचा और धीमा होता है, लेकिन टॉस इस मैच मैं महत्वपूर्ण  भूमिका अदा करेगा। पिछले दो वनडे मैच जो यहां खेले गये उनमे ज्यादा रन नहीं बने थे। भारत यहां अक्टूबर 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ छह रनों से हारा था और वेस्ट इंडीज के खिलाफ अक्टूबर 2014 में 48 रनों से जीत हासिल की थी। हालांकि यहां टी-20 खेलो में खूब  रन बरसते हैं। जडेजा कल प्लेइंग इलेवन में शामिल हो सकते हैं, यह देखते हुए कि कोटला विकेट पर  बाएं हाथ का स्पिन गेंदबाज प्रभावी होगा।

धोनी और पंत की तुलना करना अनुचित

भारत के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने मंगलवार को आलोचना झेल रहे ऋषभ पंत का बचाव करते हुए कहा कि युवा विकेटकीपर बल्लेबाज की तुलना महेंद्र सिंह धोनी से करना अनुचित है। पंत को रविवार को मोहाली में चौथे एकदिवसीय मैच के दौरान स्टंप के पीछे खराब प्रदर्शन के बाद आलोचना का सामना करना पड़ा था।

अरुण ने कहा कि पंत और धोनी की तुलना करना अनुचित है। धोनी महान खिलाड़ी हैं, स्टंप के पीछे उनका काम अनुकरणीय है। जब विराट को किसी से बात करने की जरूरत होती है तो वे धोनी के पास ही जाते हैं, तो इस तरह टीम पर उनका बहुत बड़ा प्रभाव है।

  

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से