Home खेल क्रिकेट IPL: मलिंगा बने हीरो, रोमांचक फाइनल में मुंबई इंडियंस ने CSK को हराकर बनाया ये रिकॉर्ड

IPL: मलिंगा बने हीरो, रोमांचक फाइनल में मुंबई इंडियंस ने CSK को हराकर बनाया ये रिकॉर्ड

आउटलुक टीम - MAY 13 , 2019
IPL: मलिंगा बने हीरो, रोमांचक फाइनल में मुंबई इंडियंस ने CSK को हराकर बनाया ये रिकॉर्ड
आईपीएल: लसिथ मलिंगा बने हीरो, फाइनल में मुंबई इंडियंस ने सीएसके को हराकर बनाया ये रिकॉर्ड
TWITTER
आउटलुक टीम

मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन के सांस रोक देने वाले फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को 1 रन से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। मुंबई इंडियंस ने मैच की आखिरी गेंद पर जीत हासिल की। हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने 8 विकेट खोकर 149 रन बनाए। जवाब में चेन्नई 148 रन ही बना सकी। इसी के साथ ही मुंबई चार बार आईपीएल का खिताब जीतने वाली पहली टीम बन गई है।

आखिरी गेंद पर दिखा मलिंगा का कमाल

जसप्रीत बुमराह और राहुल चाहर की कसी हुई गेंदबाजी के बाद लेसिथ मलिंगा के आखिरी ओवर के कमाल से मुंबई इंडियंस ने उतार चढ़ाव से भरे रोमांचक फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को 1 रन से हराकर चौथी बार आईपीएल चैंम्पियन बनने का गौरव हासिल किया।

चेन्नई के सामने 150 रनों का लक्ष्य था, लेकिन उसकी टीम शेन वॉटसन के 59 गेंदों पर 80 रनों के बावजूद 7 विकेट पर 148 रन ही बना पाया। चेन्नई को आखिरी ओवर में 9 रन चाहिए थे, लेकिन इसमें उसने वॉटसन का विकेट गंवाया।

मैच का परिणाम अंतिम गेंद पर निकला, जिसमें चेन्नई को 2 रनों की दरकार थी, लेकिन मलिंगा ने यॉर्कर पर शार्दुल ठाकुर को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया।

इससे पहले मुंबई की टीम नियमित अंतराल में विकेट गंवाने के कारण क्विंटन डि कॉक (17 गेंदों पर चार छक्कों की मदद से 29) से मिली अच्छी शुरुआत और कीरोन पोलार्ड (25 गेंदों पर नाबाद 41, 4X3, 6X3) के उपयोगी योगदान देने के बावजूद 8 विकेट पर 149 रन ही बना पाया।

मुंबई-चेन्नई के बीच चौथा फाइनल

मुंबई और चेन्नई के बीच यह चौथा फाइनल था, जिसमें मुंबई तीन बार चैंम्पियन बना है। इन दोनों टीमों के बीच हमेशा पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती है और इस बार भी यह क्रम जारी रहा। मुंबई ने इससे पहले 2013, 2015 और 2017 में खिताब जीते थे और इस तरह से उसने एक साल छोड़कर खिताब जीतने का क्रम जारी रखा। उसने 2013 और 2015 के फाइनल में भी चेन्नई को हराया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से