Home खेल क्रिकेट अंडर-19 विश्व कप: आईसीसी ने भारत के दो खिलाड़ियों समेत पांच पर की कार्रवाई

अंडर-19 विश्व कप: आईसीसी ने भारत के दो खिलाड़ियों समेत पांच पर की कार्रवाई

आउटलुक टीम - FEB 11 , 2020
अंडर-19 विश्व कप: आईसीसी ने भारत के दो खिलाड़ियों समेत पांच पर की कार्रवाई
अंडर-19 विश्व कप: आईसीसी ने भारत के दो खिलाड़ियों समेत पांच पर की कार्रवाई
आउटलुक टीम

आईसीसी अंडर-19 विश्व कप फाइनल के बाद हुई विवाद के लिए आईसीसी ने भारत के दो खिलाड़ियों आकाश सिंह और रवि बिश्नोई और तीन बांग्लादेशी खिलाड़ियों पर आरोप लगाए हैं। आकाश और बिश्नोई के अलावा बांग्लादेश के  मोहम्मद तॉहिद हृदोय, शमीम हुसैन और रकीबुल हसन को आईसीसी की आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। बांग्लादेश की भारत पर तीन विकेट से जीत के बाद दोनों टीमों के कुछ खिलाड़ियों में लगभग हाथापाई की नौबत आ गई थी।

पांचो खिलाड़ियों ने सजा स्वीकार कर ली है

आईसीसी ने एक बयान में कहा, पांच खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के लिए आईसीसी की आचार संहिता के लेवल तीन के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। उन पर धारा 2.21 के और बिश्नोई पर 2.5 के भी उल्लंघन का आरोप लगाया गया है। इसमें कहा गया कि सभी पांच खिलाड़ियों ने सजा स्वीकार कर ली है। बांग्लादेश के कुछ खिलाड़ी जीत के बाद भावनाओं में बह गए थे हालांकि उनके कप्तान अकबर अली ने इसके लिए माफी मांगी लेकिन भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग का कहना था कि ऐसा नहीं होना चाहिए थे। 

दो साल तक रिकार्ड में रहेंगे डिमेरिट अंक

बांग्लादेश के खिलाड़ियों के भाव काफी आक्रामक थे। आईसीसी ने कहा, भारत के आकाश ने सजा स्वीकार कर ली है और उस पर आठ निलंबन अंक लगाए गए जो छह डिमेरिट अंकों के बराबर है। यह दो साल तक उसके रिकार्ड में रहेंगे। बिश्नोई पर पांच निलंबन अंक यानी पांच डिमेरिट अंक लगाए गए हैं। 

बिश्नोई ने धारा 2.5 के लेवल एक के उल्लंघन का आरोप स्वीकारा

आईसीसी ने बताया कि बिश्नोई ने धारा 2.5 के लेवल एक के उल्लंघन का आरोप स्वीकार कर लिया है जो इस मैच के दौरान एक अन्य घटना का था। उसने 23वें ओवर में अविषेक दास के आउट होने के बाद आक्रामक तेवर दिखाए जो सामने वाले को उकसा सकते थे। इसके लिए उन्हें दो डिमेरिट अंक भरने पड़ेंगे यानी कुल सात डिमेरिट अंक उनके रिकार्ड में दो साल तक रहेंगे।

निलंबन अंक आगामी अंतरराष्ट्रीय मैचों पर होंगे लागू

बांग्लादेश के तौहीद पर दस निलंबन अंक यानी छह डिमेरिट अंक लगाए गए। वहीं शमीम पर आठ निलंबन अंक (छह डिमेरिट अंक) और हसन पर चार निलंबन अंक (पांच डिमेरिट अंक) लगाए गए हैं। सभी आरोप मैदानी अंपायरों सैम एन और एड्रियन होल्डस्टोक, तीसरे अंपायर रविंद्र विमलासिरि और चौथे अंपायर पैट्रिक बोंगनी जेले ने लगाए। निलंबन अंक आगामी अंतरराष्ट्रीय मैचों पर लागू होंगे। एक निलंबन अंक के मायने हैं कि खिलाड़ी एक वनडे या टी-20, अंडर 19 या ए टीम अंतरराष्ट्रीय मैच से बाहर रहेगा।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से