Home खेल क्रिकेट कटक वन डे में ओस, बाद में बैटिंग करने वाली टीम को हो सकता है फायदा

कटक वन डे में ओस, बाद में बैटिंग करने वाली टीम को हो सकता है फायदा

JAN 18 , 2017
कटक वन डे में ओस, बाद में बैटिंग करने वाली टीम को हो सकता है फायदा
कटक वन डे में ओस, बाद में बैटिंग करने वाली टीम को हो सकता है फायदा
google

स्थानीय क्यूरेटर के मुताबिक ओस शाम साढ़े पांच बजे के बाद पड़ने लगती है और अगर मैच के दिन भी ऐसा हुआ तो टास बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम के पक्ष में अहम भूमिका निभा सकता है।

क्यूरेटर पंकज पटनायक ने कहा, पिछले कुछ दिनों से काफी ओस पड़ रही है और रासायनिक स्प्रे, दो सुपर सोपर और मैदान को रस्सी से सुखाकर हम इससे निपटने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे।

आउटफील्ड की घास को भी काटकर आठ मिलीमीटर से छह मिलीमीटर कर दिया गया है जिससे कि ओस मिट्टी में चली जाए।

यहां पिछला एकदिवसीय अंतरराष्‍ट्रीय मैच दो साल से भी अधिक समय पहले दो नवंबर 2014 को आयोजित किया गया था जिसमें भारत ने पांच विकेट पर 363 रन बनाने के बाद श्रीलंका को 169 रन से हराकर 5-0 से क्लीनस्वीप की नींव रखी थी। विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम पुणे में पहले वनडे में इंग्लैंड के 351 रन के लक्ष्य को 11 गेंद शेष रहते सात विकेट गंवाकर हासिल करते हुए अपने इरादे पहले ही जाहिर कर चुकी है और इस मैदान पर भी बड़े स्कोर की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।

क्यूरेटर ने कहा, मेरे लिए रनों की भविष्यवाणी करना मुश्किल होगा लेकिन हमेशा की तरह इस पिच पर काफी रन बनेंगे। यह बल्लेबाजी की अनुकूल पिच होगी और बल्लेबाजों को इसका फायदा उठाना होगा।

श्रृंखला का तीसरा और अंतिम वनडे 22 जनवरी को कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेला जाएगा। भाषा

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से