Home खेल क्रिकेट लगातार चौथी जीत के बावजूद घरेलू पिच से खुश नही है धोनी और दीपक चाहर

लगातार चौथी जीत के बावजूद घरेलू पिच से खुश नही है धोनी और दीपक चाहर

आउटलुक टीम - APR 10 , 2019
लगातार चौथी जीत के बावजूद घरेलू पिच से खुश नही है धोनी और दीपक चाहर
लगातार चौथी जीत के बावजूद घरेलू पिच से खुश नही है धोनी और दीपक चाहर
आउटलुक टीम

चेन्नै के चेपॉक स्टेडियम में मेजबान चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को सात विकेट से हरा दिया है। बावजूद इसके सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और टीम के प्रमुख गेंदबाज दीपक चाहर खुश नहीं हैं। दरअसल, कप्तान धोनी चाहते हैं कि चेन्नै के चेपॉक स्टेडियम की पिच को अच्छा बनाया जाए। धोनी की इस बात से तेज गेंदबाज दीपक चाहर भी इत्तेफाक रखते हैं। यही वजह है कि केकेआर के खिलाफ मैन ऑफ द मैच रहे दीपक चाहर ने कैप्टन कूल धोनी की हां में हां मिलाते हुए कहा है कि हमें एक अच्छा विकेट चाहिए।  

अपने प्रदर्शन से खुश लेकिन विकेट से नाराज

कोलकाता को सात विकेट से मात देने के बाद कप्तान एमएस धोनी ने चेन्नै के पिच की आलोचना इसलिए की है क्योंकि चेन्नै में अभी तक कोई हाई स्कोरिंग मुकाबला देखने को नहीं मिला है। विकेट शुरुआत से ही धीमा होता जा रहा है। कप्तान धोनी ही नहीं, केकेआर के खिलाफ 20 रन देकर तीन विकेट चटकाने वाले दीपक चाहर ने भी विकेट की आलोचना की है। दीपक चाहर ने मैच के बाद कहा कि मैं खुश हूं कि मैंने अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन जाहिर तौर पर हम एक अच्छे विकेट की तलाश में हैं। क्योंकि कोई भी इस तरह का विकेट नहीं चाहता।

गर्मी और मिट्टी को बताया धीमी पिच की वजह

ये गर्मी और मिट्टी की वजह से हो रहा है। यहां बहुत गर्मी है और पिच क्यूरेटर्स अच्छा पिच बनाने के लिए अपना बेस्ट दे रहे हैं। लेकिन आपको इससे मदद नहीं मिलती। वहीं, दीपक चाहर और एमएस धोनी इस बात को भी स्वीकार कर चुके हैं कि डेथ ओवर्स में उन्हें ड्वेन ब्रावो की कमी खल रही है। ब्रावो की जगह ही दीपक चाहर को मौका मिला है जो डेथ ओवर्स में सधी हुई गेंदबाजी कर रहे हैं। हालांकि, एक दो बार चाहर को धोनी से डांट भी पड़ी है। 

धोनी पिच के आलोचक लेकिन स्पिन गेंदबाजो के प्रशंसक

धोनी ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि इस पिच पर हमें और खेलना चाहिए। इस पिच पर बड़ा स्कोर खड़ा कर पाना संभव नहीं होता है। हालांकि पिच को लेकर निराशा के बावजूद हमने जीत हासिल की। धोनी ने इसके साथ ही अनुभवी स्पिनर हरभजन सिंह और इमरान ताहिर की भी तारीफ की। 

कहा, दोनों पुरानी शराब की तरह निखर रहे 

हरभजन और ताहिर की तारीफ करते हुए धोनी ने कहा कि वे उस पुरानी शराब की तरह हैं, जो लगातार निखरती जा रही हैं। धोनी के कहा कि हरभजन और ताहिर ने अपने प्रदर्शन से यह साबित कर दिया है कि उम्र सिर्फ एक नंबर होती है। व्यक्ति अगर मेहनत करना चाहे, तो वह कुछ भी कर सकता है। उनकी उम्र एक तरफ है खेल का कोई भी फॉर्मेट हो, भज्जी और ताहिर का सभी में शानदार प्रदर्शन रहता है। वहीं ताहिर की बात करें, तो जब भी टीम को जरूरत होती है, ताहिर हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। उन्हे मुझ पर भरोसा है। वह बहुत अच्छी फ्लिपर करते हैं।

कुल मिलाकर टीम की गेंदबाजी काफी मजबूत है। सभी गेंदबाजों का प्रदर्शन शानदार है। धोनी ने कहा कि मैच में ड्वेन ब्रावो नहीं खेल रहे थे। ऐसे में हमारे सामने उनकी जगह पूरी करने की चुनौती थी। पिच बल्लेबाजी के लिए बिल्कुल भी आसान नहीं थी। यहां पहले बल्लेबाजी करना खतरनाक साबित होता। ऐसे में हमारे स्पीनर्स ने जो प्रदर्शन किया, वह सराहनीय है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से