Home खेल क्रिकेट अर्जुन अवार्ड के लिए बीसीसीआई भेज सकता है बुमराह का नाम, शिखर धवन भी रेस में

अर्जुन अवार्ड के लिए बीसीसीआई भेज सकता है बुमराह का नाम, शिखर धवन भी रेस में

आउटलुक टीम - MAY 14 , 2020
अर्जुन अवार्ड के लिए बीसीसीआई भेज सकता है बुमराह का नाम, शिखर धवन भी रेस में
अर्जुन अवार्ड के लिए बीसीसीआई भेज सकता है बुमराह का नाम, शिखर धवन भी रेस में
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का नाम बीसीसीआई द्वारा इस साल प्रतिष्ठित अर्जुन अवार्ड के लिए भेजे जाने की उम्मीद है। यदि बीसीसीआई ने एक से ज्यादा नामांकन भेजने का फैसला किया तो दूसरा नाम ओपनर शिखर धवन का होगा जो 2018 में इस अवॉर्ड को हासिल करने से चूक गए थे। बीसीसीआई के अधिकारियों के इस महीने के अंत में पुरुष और महिला वर्गों के लिए नामांकन किए जाने की उम्मीद है। महिलाओं के वर्ग में ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा को पिछले चार वर्षों से लगातार अच्छे प्रदर्शन के कारण तेज गेंदबाज शिखा पांडे के साथ नामांकित किया जा सकता है।

पिछले साल रवींद्र जडेजा ने मारी थी बाजी

बीसीसीआई द्वारा इस अवॉर्ड के लिए इस महीने के अंत तक अपने खिलाड़ियों के नाम भेजने की उम्मीद है। बीसीसीआई ने पिछले साल भी अर्जुन अवार्ड के लिए जसप्रीत बुमराह का नाम भेजा था लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीन वर्ष पूरे नहीं होने की वजह से उनके नाम पर विचार नहीं किया गया था। बीसीसीआई सूत्र ने बताया, पिछले साल हमने तीन खिलाड़ियों (रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी) के नाम भेजे थे। रवींद्र जडेजा ने ज्यादा अनुभवी और प्रदर्शन में निरंतरता की वजह से बाजी मारी थी।

इस बार जसप्रीत बुमराह का दावा सबसे मजबूत

इस बार जसप्रीत बुमराह का दावा सबसे मजबूत रहेगा क्योंकि वे सभी फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। 26 साल के बुमराह 14 टेस्ट मैचों में 68 विकेट, 64 वनडे में 104 विकेट और 50 टी20 मैचों में 59 विकेट हासिल कर चुके हैं। वे इस वक्त आईसीसी वनडे रैंकिंग में दुनिया के नंबर वन गेंदबाज हैं। वे दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज में पारी में 5 विकेट लेने वाले एकमात्र एशियन गेंदबाज हैं।

शमी का नाम भेजे जाने की उम्मीद नहीं

बीसीसीआई द्वारा इस साल मोहम्मद शमी के नाम की सिफारिश किए जाने की संभावना नहीं है क्योंकि उनकी पत्नी हसीन जहान ने उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का केस किया हुआ है। इस वजह से शमी की दावेदारी निरस्त हो जाएगी। शिखर धवन से जूनियर कई खिलाड़ी विराट कोहली, रविचंद्रन अश्विन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा और रवींद्र जडेजा यह अवॉर्ड हासिल कर चुके हैं। शिखर धवन का करिअर चोटों की वजह से प्रभावित रहा है। बीसीसीआई ने साल 2018 में धवन का नाम भेजा था लेकिन महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना को यह अवॉर्ड मिल गया था। इस वजह से बीसीसीआई इस साल बुमराह और धवन दोनों के नाम भेज सकता है। महिला वर्ग में ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा और तेज गेंदबाज शिखा पांडे के नाम भेजे जाएंगे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से