Home » राजनीति » क्षेत्रीय दल » शिवसेना के बोल, 'कांग्रेस ने याकूब की फांसी का विरोध करने वाले को बनाया उपराष्ट्रपति उम्मीदवार'

शिवसेना के बोल, 'कांग्रेस ने याकूब की फांसी का विरोध करने वाले को बनाया उपराष्ट्रपति उम्मीदवार'

JUL 17 , 2017
शिवसेना ने एक बार फिर कांग्रेस पर हमला बोला है। उपराष्ट्रपति चुनाव में गोपाल कृष्ण गांधी को विपक्षी दलों की ओर से उम्मीदवार बनाए जाने पर शिवसेना ने कटाक्ष किया है।

शिवसेना ने कहा कि कांग्रेस ने गोपाल कृष्ण गांधी को उम्मीदवार बनाकर संकीर्ण सोच दिखाई है। शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि गोपाल कृष्ण गांधी ने 1993 के मुंबई धमाकों के दोषी याकूब की फांसी रुकवाने का प्रयास किया  है और कांग्रेस की ओर से उन्हें उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाना विपक्ष की संकीर्ण सोच को दर्शाता है।

Advertisement

इससे पहले रविवार को पार्टी मीटिंग में शिवसेना प्रवक्ता ने कहा था कि ''हम विरोध नहीं करते, लेकिन जब देशहित और राष्ट्रीय सुरक्षा की बात आती है, तब करना पड़ता है। याकूब ने पाकिस्तान के साथ मिलकर आतंकी हमले को अंजाम दिया। गोपालकृष्ण ने उसी याकूब को बचाने के लिए चलाई गई मुहिम को लीड किया। फांसी की सजा रद्द कराने के लिए राष्ट्रपति को लेटर लिखा।''

क्या कहते हैं नेतागण?

संजय राउत के इस बयान के बाद  शिवसेना सांसद और केंद्रीय मंत्री अनंत गीते ने कहा कि गोपाल कृष्ण गांधी को लेकर संजय राउत ने जो बयान दिया है वह एकदम सही है। इधर सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा है कि हमें शिवसेना के बयान पर प्रतिक्रिया देने की जरुरत नहीं है। वहीं कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी ने कहा है कि गोपालकृष्ण गांधी पर सवाल उठाने से पहले शिवसेना इस बात की जानकारी दे कि उन्होंने फांसी रोकने के लिए क्या किया था।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.