Home राजनीति क्षेत्रीय दल महागठबंधन में तेजस्वी के नेतृत्व पर उठे सवाल, शरद यादव को नया चेहरा बनाने की मांग

महागठबंधन में तेजस्वी के नेतृत्व पर उठे सवाल, शरद यादव को नया चेहरा बनाने की मांग

आउटलुक टीम - FEB 14 , 2020
महागठबंधन में तेजस्वी के नेतृत्व पर उठे सवाल, शरद यादव को नया चेहरा बनाने की मांग
महागठबंधन में तेजस्वी के नेतृत्व पर उठे सवाल, शरद यादव को नया चेहरा बनाने की मांग
File Photo
आउटलुक टीम

इस साल बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर हर पार्टी अपना कुनबा ठीक करने में जुट गई है। इसी कड़ी में शुक्रवार को पटना के एक होटल में महागठबंधन की बैठक हुई। सूत्रों के मुताबिक महागठबंधन का नेतृत्व करने के लिए शरद यादव के नाम को आगे बढ़ाया गया है। वहीं, बैठक में राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजद) नेता व पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव शामिल नहीं हुए।

एक घंटे तक चली इस बैठक में हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के मुखिया व राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा और विकासशील इंसान पार्टी के संस्थापक मुकेश सहनी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के संयोजक व जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के साथ बातचीत की। 

करेंगे मुलाकात

वहीं, इस बात के कयास लगाए जा रहे है कि गठबंधन को तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर भरोसा नहीं है। इसलिए खबरों के मुताबिक शनिवार को शरद यादव राजद सुप्रीमो लालू यादव से रांची के रिम्स अस्पताल में मुलाकात कर मनाने की कोशिश कर सकते है। क्योंकि राजद, गठबंधन की इन पांचों पार्टियों में सबसे बड़ी पार्टी है।

इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि आज की बैठक को महागठबंधन की बैठक नहीं कहेंगे। उन्होंने कहा कि राजद नेता तेजस्वी यादव के बिना शामिल हुए इस तरह की बैठक कभी नहीं बुलाई जा सकती है। तिवारी ने कहा, “तेजस्वी यादव को पहले ही महागठबंधन का नेता घोषित किया जा चुका है। इस मसले पर और बहस की गुंजाइश नहीं है।”

अस्पताल में हैं भर्ती

बता दें, चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद यादव रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में सजा काट रहे हैं। बीमार होने की वजह से वह लंबे अरसे से रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं। पिछले दिनों झारखंड हाइकोर्ट ने देवघर कोषागार से फर्जी कागजात के आधार पर निकासी के मामले में लालू प्रसाद को जमानत दी थी।

चार सीट पर लड़ी थी चुनाव

पिछले दिनों संपन्न हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में राजद ने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर 70 सीट में से चार सीटों पर चुनाव लड़ी थी।

निकालेंगे ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’

राजद की तरफ से इस बात का ऐलान किया गया है कि वो युवाओं के लिए नौकरी की मांग को लेकर पूरे राज्य में बेरोजगारी हटाओं यात्रा निकालेंगी। यह यात्रा 23 फरवरी को निकाली जाएगी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से