Home राजनीति क्षेत्रीय दल "ये नरसंहार- सभी गोलियां गर्दन या छाती में लगीं, शरीर के निचले हिस्से में भी मार सकते थे", कूचबिहार हिंसा पर बोलीं ममता

"ये नरसंहार- सभी गोलियां गर्दन या छाती में लगीं, शरीर के निचले हिस्से में भी मार सकते थे", कूचबिहार हिंसा पर बोलीं ममता

आउटलुक टीम - APR 11 , 2021

ANI
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के दौरान कूचबिहार जिले में हिंसा हुई। यहां के एक बूध पर फायरिंग में पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस अधिकारी का कहना है कि कुछ लोगों द्वारा सीआईएसएफ बलों से उनकी रायफल छीनने की कोशिश की गई, जिसके बाद सुरक्षाबलों को फायरिंग करनी पड़ी। इसके बाद चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए हिंसा वाली जगहों पर नेताओं के प्रवेश को तीन दिनों के लिए प्रतिबंध कर दिया है। अब इस पर सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि ये नरसंहार है। वो उनको पैर या शरीर के निचले हिस्से में गोली मार सकते थे लेकिन सब गोलियां उन्हें गर्दन या छाती में लगीं।

कल की घटना के बाद राजनीतिक बयानबाजी भी लगातार सामने आ रही है। ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार और अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि हम पहले ही कह रहे थे कि गृह मंत्री केंद्रीय बलों को प्रभावित कर रहे हैं। हमारा डर सही साबित हुआ। आज उन लोगों ने चार लोगों को मार दिया। ये लोग मतदान के लिए लाइन में लगे थे। भाजपा चुनाव हार चुकी है इसलिए ये लोग मतदाताओं की हत्या करवा रहे हैं। मैं सभी से शांति बरतने की अपील करती हूं।

शनिवार को सिलीगुड़ी में ममता ने कहा गृह मंत्री अमित शाह आज की घटना के लिए पूरी तरह से ज़िम्मेदार हैं और वे खुद साजिशकर्ता हैं। मैं केंद्रीय बलों को दोष नहीं देती क्योंकि वे गृह मंत्री के आदेश के तहत काम करते हैं। जिसके बाद टीएमसी सांसद सौगत रॉय ने कहा कि हमारी नेता ममता बनर्जी आज मारे गए सभी लोगों के घर जाएंगी। डीआईजी जलपाईगुड़ी रेंज ने बताया कि यहां मतदान बंद किया गया है। स्थिति अभी नियंत्रण में है। 4 लोग की अभी तक मौत हुई है। 1 व्यक्ति घायल हुआ है। जांच जारी है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से