Home » राजनीति » क्षेत्रीय दल » चुनाव आयोग ने ऑडिट रिपोर्ट जमा नहीं करने पर दी राजद को चेतावनी

चुनाव आयोग ने ऑडिट रिपोर्ट जमा नहीं करने पर दी राजद को चेतावनी

APR 16 , 2018

चुनाव आयोग ने लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को 2014-15 के सालाना ऑ़डिट रिपोर्ट दाखिल नहीं करने पर नोटिस भेजा है। नोटिस में कहा गया है कि यदि पार्टी 20 दिन के भीतर रिपोर्ट दाखिल नहीं करती है तो उसकी मान्यता खत्म कर दी जाएगी।

13 अप्रैल को जारी इस नोटिस में कहा गया है कि हर राजनीतिक दल को 31 अक्टूबर तक ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करनी पड़ती है पर राजद ने वर्ष 2014-15 की रिपोर्ट नहीं सौंपी है। कारण बताओ नोटिस में पूछा गया गया है कि क्यों नहीं चुनाव चिह्न (आरक्षण और आवंटन) आदेश 1968 के पारा 16 ए के तहत आयोग के निर्देशों को मानने में विफल रहने के कारण अब पार्टी के खिलाफ कार्रवाई की जाए।


पारा 16 चुनाव आयोग को आदर्श आचार संहिता और वैध निर्देशों के पालन करने में विफल रहने वाले मान्यता प्राप्त दलों की मान्यता खत्म करने या निलंबित करने का अधिकार देता है। चुनाव आयोग ने राजद से कहा है कि वह नोटिस मिलने के 20 दिन के अंदर इस चूक का लिखित जवाब देने और सालाना ऑडिट रिपोर्ट जमा करने को कहा है।

इस नोटिस में कहा गया है कि अगर आप तय समय में जवाब नहीं देते हैं तो बिना कोई जानकारी दिए आप पर पार 16ए के तहत कार्रवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद चंदे में पारदर्शिता लाने के लिए चुनाव आयोग सभी दलों को ऑडिट रिपोर्ट जमा करने को कहता है। पूर्व में भी कई दलों ने रिपोर्ट दाखिल नहीं की है।

देश में इस समय क्षेत्रीय स्तर पर 49 पार्टियों को मान्यता प्राप्त है। राष्ट्रीय स्तर पर सात पार्टियों भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, बसपा, एनसीपी, भाकपा और माकपा का मान्यता मिली हुई है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.