Home राजनीति क्षेत्रीय दल भाजपा भले ही सबसे बड़ा दल बनकर उभरे लेकिन अब नरेंद्र मोदी नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री: शरद पवार

भाजपा भले ही सबसे बड़ा दल बनकर उभरे लेकिन अब नरेंद्र मोदी नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री: शरद पवार

आउटलुक टीम - MAR 13 , 2019
भाजपा भले ही सबसे बड़ा दल बनकर उभरे लेकिन अब नरेंद्र मोदी नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री: शरद पवार
भाजपा भले ही सबसे बड़ा दल बनकर उभरे लेकिन अब नरेंद्र मोदी नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री: शरद पवार
आउटलुक टीम

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता शरद पवार ने कहा कि भाजपा लोकसभा चुनाव में भले ही सबसे बड़े दल के रूप में उभरे लेकिन नरेंद्र मोदी दूसरे कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए पवार ने कहा, ‘भाजपा संसदीय चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर सकती है और उसे सहयोगी दलों (सरकार बनाने के लिए) की जरूरत होगी। इस परिदृश्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरा अवसर मिलने की संभावना नहीं है। शरद पवार ने कहा कि अगर भाजपा को दूसरे दलों से सहयोग की आवश्यकता होती है तो दूसरी पार्टियां किसी और को प्रधानमंत्री बनाना चाहेंगी।

सीट बंटवारे का ऐलान जल्द

पवार ने यह भी कहा कि वे 14 और 15 मार्च को दिल्ली में देश भर के कुछ क्षेत्रीय दलों से मिलेंगे, जहां महागठबंधन की आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। एनसीपी नेता ने कहा कि एनसीपी और कांग्रेस के बीच सीट बंटवारे के फार्मूले को लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है और जल्द ही एक आधिकारिक घोषणा की जाएगी।

नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

इससे पहले 20 फरवरी को पवार ने कहा था कि वह चुनाव लड़ेंगे लेकिन बाद में उन्होंने कहा, 'जब परिवार के दो सदस्य चुनावी मैदान में हैं तो मेरे लिए यह अच्छा मौका है कि आराम करूं।' बता दें कि महाराष्ट्र में एनसीपी कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह नई दिल्ली में मार्च 14 और 15 को देश के कुछ क्षेत्रीय दलों से मिले थे, जहां ‘महागठबंधन’ के बारे में चर्चा की गई। सोमवार को पवार ने कहा था कि वह अगले महीने हो रहे लोकसभा चुनाव में बतौर प्रत्याशी नहीं उतरेंगे। इस 78 साल के वरिष्ठ राजनेता ने कहा कि उनके परिवार के दो सदस्य इस चुनाव में उतर रहे हैं, ऐसे में, ‘किसी को पीछे हटना ही होगा।’

फडणवीस पर पलटवार

हालांकि पवार ने इससे पहले कहा था कि पार्टी कार्यकर्ता चाहते हैं कि वह चुनाव लड़ें। पवार के चुनाव न लड़ने की घोषणा पर बीजेपी के मुख्यमंत्री फडणवीस ने चुटकी लेते हुए कहा था कि ‘बदलती बयार को महसूस’ कर लिया है। इस पर पवार ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, ‘यह बचकानापन है क्योंकि मैंने लोकसभा और विधानसभा चुनावों में 14 बार जीत हासिल की है।’

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से