Home राजनीति क्षेत्रीय दल मुकुल रॉय ने फिर से TMC का दामन थामा, ममता बनर्जी बोलीं- पार्टी में सिर्फ इमानदार नेताओं के लिए जगह

मुकुल रॉय ने फिर से TMC का दामन थामा, ममता बनर्जी बोलीं- पार्टी में सिर्फ इमानदार नेताओं के लिए जगह

आउटलुक टीम - JUN 11 , 2021
मुकुल रॉय ने फिर से TMC का दामन थामा, ममता बनर्जी बोलीं- पार्टी में सिर्फ इमानदार नेताओं के लिए जगह
ANI
प.बंगाल में बीजेपी को बड़ा झटका, मुकुल राय ने फिर से टीएमसी दामन थामा, 4 साल पहले बीजेपी में हुए थे शामिल
ANI
आउटलुक टीम

पश्चिम बंगाल में चुनाव हारने के बाद अब भाजपा (बीजेपी) को एक बड़ा झटका लगा है। बीजेपी के बड़े नेता मुकुल रॉय शुक्रवार कोबेटे सुभ्रांशु रॉय के साथ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल हो गए हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मौजूदगी में उन्होंने टीएमसी का दामन थामा। इसके बाद उन्होंने कहा कि घर में आकर अच्छा लग रहा है। बंगाल ममता बनर्जी का है और रहेगा। मैं बीजेपी में नहीं रह पा रहा था।

ममता बनर्जी ने कहा कि मुझे खुशी है कि मुकुल घर लौटे हैं। बीजेपी में गए कई और नेता वापस आना चाहते हैं। हमने कभी भी किसी की पार्टी नहीं तोड़ी। हमने एजेंसियों का इस्तेमाल नहीं किया है जो आना चाहते हैं। वही पार्टी में आ रहे हैं। सिर्फ इमानदार नेताओं के लिए टीएमसी में जगह है। जिन लोगों ने गद्दारी की है उन्‍हें हम वापस पार्टी में नहीं लेंगे।

सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि मुकुल रॉय पार्टी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे, वे पहले जो भूमिका निभाते थे, भविष्य में भी वे वही भूमिका निभाएंगे। टीएमसी  एक परिवार है। इस दौरान ममता बनर्जी ने बीजेपी पर जोरदार हमला बोला। ममता ने कहा कि बीजेपी ईमानदार लोगों को जांच एजेंसियों की मदद से परेशानी करती है।

मुकुल रॉय टीएमसी छोड़ने वाले सबसे पहले नेता है। उन्होंने 2017 के नवंबर में बीजेपी को ज्वाइन किया था। उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में टीएमसी ने 6 साल के लिए बाहर कर दिया था।  रॉय, भाजपा में शुभेंदु अधिकारी के बढ़ते कद से परेशान बताए जा रहे थे। उनके कई पुराने सहयोगी टीएमसी में लौटना चाहते हैं। 

पिछले दिनों कोलकाता में हुई बीजेपी की बैठक में मुकुल रॉय नहीं पहुंचे थे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी मुकुल रॉय की पत्नी को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे थे। इन घटनाओं के बाद से अटकलें तेज थी कि मुकुल रॉय भाजपा का साथ छोड़ सकते हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से