Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » कांग्रेस नेता की मांग, मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निकालें राहुल गांधी

कांग्रेस नेता की मांग, मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निकालें राहुल गांधी

FEB 13 , 2018

कांग्रेस से निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर  एक बार फिर विवादित बयान देकर चर्चा में आ गए हैं। उनके द्वारा दिए गए विवादित बयानों की वजह से गुजरात चुनाव गंवा चुकी कांग्रेस पार्टी के नेता इसबार अय्यर के बयान से नाराज हैं और पार्टी से निकाल देने की मांग तक कर रहे हैं। कई राज्यों के चुनाव नजदीक हैं और मणिशंकर अय्यर फिर से कांग्रेस को बैकफुट पर ले जा रहे हैं।

बता दें कि कराची साहित्य महोत्सव में हिस्सा लेते हुए 76 वर्षीय अय्यर ने कहा था, 'पाकिस्तान बातचीत के जरिए सभी मुद्दों का समाधान चाहता है और वह अपनी इस नीति पर अडिग है, इसका उन्हें गर्व है लेकिन भारत सरकार इस नीति का पालन नहीं कर रही है, इसका उन्हें दु:ख है।'

वहीं, आज अपनी बात पर कायम रहते हुए एक बार फिर अय्यर ने कहा, 'हजारों लोग जिन्हें मैं नहीं जानता, वो मुझे गले लगाते हैं, मुझे शुभकामनाएं देते हैं। मुझे भारत में ज्यादा नफरत मिलती है। पाकिस्तान में प्यार मिलता है। मैं यहां आकर खुश हूं। ये लोग ताली बजा रहे हैं क्योंकि मैं शांति की बात करता हूं।'

अय्यर के इस बयान के बाद कांग्रेस से राज्यसभा सांसद वी हनुमंथ राव ने नाराजगी भरे लहजे में कहा है कि मणिशंकर अय्यर को इस तरह के बयान देना बिलकुल बंद कर देना चाहिए। उनके विवादित बोलों की वजह से पहले ही पार्टी ने उन्हें निष्कासित कर दिया है लेकिन वो चुप होने का नाम नहीं ले रहे हैं।


उन्होंने आगे कहा कि मणिशंकर अय्यर के दिए बयानों की वजह से पहले भी बीजेपी काफी फायदा उठा चुकी है और अगर उन्हें पार्टी से नहीं निकाला गया तो वह दिन दूर नहीं जब पार्टी को भारी खामियाजा उठाना पड़ेगा।

हनुमंथ राव ने कहा कि वो जल्द ही राहुल गांधी को एक पत्र लिखने वाले हैं और उनसे गुजारिश करेंगे कि अगर वो चुप नहीं होते हैं तो उन्हें पार्टी से ही निकाल दिया जाए। 

इससे पहले गुजरात चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी पर एक टिप्पणी की थी, जिसका फायदा भाजपा को मिला था और अय्यर की काफी किरकिरी हुई थी। उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। 


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.