Home राजनीति राष्ट्रीय दल यूपी चुनावः बीजेपी ने पहली लिस्ट में 60 फीसदी दलितों और पिछड़ों को दिया टिकट, जानें क्या है वजह

यूपी चुनावः बीजेपी ने पहली लिस्ट में 60 फीसदी दलितों और पिछड़ों को दिया टिकट, जानें क्या है वजह

शशिकांत वत्स - JAN 15 , 2022
यूपी चुनावः बीजेपी ने पहली लिस्ट में 60 फीसदी दलितों और पिछड़ों को दिया टिकट, जानें क्या है वजह
यूपी चुनावः बीजेपी ने पहली लिस्ट में 60 फीसदी दलितों और पिछड़ों को दिया टिकट, जानं क्या दिया संदेश
FILE PHOTO
शशिकांत वत्स

बीजेपी ने यूपी विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को अपनी पहली लिस्ट में ही 60 फीसदी टिक्ट दलित और ओबीसी को दिए हैं। सामान्य सीटों से भी पिछ़ड़ों को मैदान में उतारा है। हाल में इस्तीफे देने वाले विधायकों ने बीजेपी पर अगड़ा पार्टी होने का आरोप लगाया था। सभी ने पार्टी को पिछड़ा और दलित विरोधी बताया था। माना जा रहा है कि इन आरोपों को दरकिनार करने के लिए ही 60 फीसदी दलितों और पिछड़ों को टिकट दिया गया है। इसके साथ ही पार्टी ने 10 महिलाओं को विधानसभा को उम्मीदवार बनाया है। 

लिस्ट की खास बात यह है कि हाल ही में बीजेपी से भगदड़ को देखते हुए इसे बनाया गया है। बीजेपी ने यूपी विधानसभा चुनाव के लिए 44 ओबीसी, 19 एससी को टिकट दिया है। खास बात यह भी है कि बीजेपी ने सामान्य सीटों पर भी दलित उम्मीदवारों को टिकट दिया है। कुल 107 उम्मदीवारों की लिस्ट में 63 मौजूदा विधायकों को भी टिकट मिले हैं।

सपा प्रमुख और पूर्व सीएम के अखिलेश यादव के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए थे। योगी सरकार में मंत्री रहे  स्वामी प्रसाद मौर्या और धर्म सिंह सैनी ने कहा था कि बीजेपी सिर्फ अगड़ों की पार्टी है। बीजेपी ने दलितों और पिछड़ों को धोखा दिया।

पूर्व राज्यपाल बेबी रानी जाटव भी उम्मीदवार बनाया गया है। गोरखपुर शहर का चुनाव छठे चरण में हैं, यहां से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को टिकट दिया गया है। प्रयागराज की सिराथू सीट का चुनाव पांचवें चरण में हैं, यहां से डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को टिकट दिया गया है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से