Advertisement
Home राजनीति राष्ट्रीय दल एनसीपी ने पूछा, 'सूरत-गुवाहाटी में होटल के बिल का भुगतान कौन कर रहा है,; 'काले धन' के स्रोत का पता लगाने के लिए आईटी विभाग और ईडी करे रेड

एनसीपी ने पूछा, 'सूरत-गुवाहाटी में होटल के बिल का भुगतान कौन कर रहा है,; 'काले धन' के स्रोत का पता लगाने के लिए आईटी विभाग और ईडी करे रेड

आउटलुक टीम - JUN 25 , 2022
एनसीपी ने पूछा, 'सूरत-गुवाहाटी में होटल के बिल का भुगतान कौन कर रहा है,; 'काले धन' के स्रोत का पता लगाने के लिए आईटी विभाग और ईडी करे रेड
एनसीपी ने पूछा, 'सूरत-गुवाहाटी में होटल के बिल का भुगतान कौन कर रहा है,; 'काले धन' के स्रोत का पता लगाने के लिए आईटी विभाग और ईडी करे रेड
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट के बीच शिवसेना के विधायकों के एक बड़े वर्ग के विद्रोह के कारण, जो वर्तमान में असम में डेरा डाले हुए हैं, राकांपा ने शनिवार को यह जानना चाहा कि गुवाहाटी और सूरत में होटलों के बिलों का भुगतान कौन कर रहा है। वहीं, गुवाहाटी में एकनाथ शिंदे गुट ने होटल प्रबंधन से अपनी बुकिंग दो और दिनों के लिए बढ़ाने को कहा है। पहले यह बुकिंग 28 जून तक थी।

शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी, जो राज्य में शिवसेना और कांग्रेस के साथ सत्ता साझा करती है, ने आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से “काले धन” के स्रोत का पता लगाने के लिए भी कहा।

राकांपा के मुख्य प्रवक्ता महेश तापसे ने पूछा, "सूरत और गुवाहाटी के होटलों के साथ-साथ चार्टर्ड फ्लाइट का बिल कौन चुका रहा है? क्या यह सच है कि हॉर्स ट्रेडिंग रेट 50 करोड़ रुपए है?"

राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रवक्ता महेश तापसे ने कहा है कि बागी विधायकों के होटल और विमान का बिल कौन भर रहा है। उन्होंने यह भी कहा है कि विधायकों की खरीद फरोख्त की कीमत 50 करोड़ बताई जा रही है, आकिर ये सच है क्या है और अगर ऐसा है तो इसे किसने दिया. वहीं उन्होंने यह भी कहा कि ईडी और आईटी रेड करेगी तो ब्लैक मनी का सोर्स पता चलेगा।

बेशक राजनीतिक संकट महाराष्ट्र में हो, लेकिन इसका केंद्र असम का गुवाहाटी बना हुआ है। शिवसेना और महाराष्ट्र सरकार में शामिल तमाम बागी विधायक यहां के एक आलीशान फाइव स्टार होटल में हैं। इस पूरे सियासी ड्रामे के सूत्रधार एकनाथ शिंदे खुद यहां मौजूद है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement