Home राजनीति राष्ट्रीय दल स्वामी का गजब बयान, कहा- ममता को बनाओ कांग्रेस का अध्यक्ष, भाजपा पर भी साधा ‌निशाना

स्वामी का गजब बयान, कहा- ममता को बनाओ कांग्रेस का अध्यक्ष, भाजपा पर भी साधा ‌निशाना

आउटलुक टीम - JUL 12 , 2019
स्वामी का गजब बयान, कहा- ममता को बनाओ कांग्रेस का अध्यक्ष, भाजपा पर भी साधा ‌निशाना
सुब्रमण्यम स्वामी का कटाक्ष- BJP अकेली पार्टी बची रही तो लोकतंत्र हो जाएगा कमजोर
File Photo
आउटलुक टीम

भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है। इतना ही नहीं, सुब्रमण्यम स्वामी ने कांग्रेस पार्टी से अलग हुए दलों को फिर से कांग्रेस में शामिल होने की सलाह भी दी है और ममता बनर्जी को एकजुट कांग्रेस की अध्यक्ष बनाए जाने की वकालत की है। सुब्रमण्यम स्वामी ने एक ट्वीट के जरिए यह बयान दिया।

बीजेपी अगर एक अकेली पार्टी रह जाएगी तो देश का लोकतंत्र कमजोर होगा

शुक्रवार सुबह स्वामी ने अपने ट्विटर अकाउंट के माध्यम से कहा, 'गोवा और कश्मीर का हाल देखने के बाद, मुझे ऐसा लगता है कि भाजपा ही अगर एक अकेली पार्टी रह जाएगी तो इससे देश का लोकतंत्र कमजोर होगा। इसका समाधान क्या है? इटालियन और उसके बच्चे को चले जाने के लिए कहिए। ममता यूनाइटेड कांग्रेस के अध्यक्ष के तौर पर एक अच्छा विकल्प हो सकती है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को भी इसी राह पर चलना चाहिए और शामिल (कांग्रेस में) हो जाना चाहिए’।

गौरतलब है कि सुब्रमण्यम स्वामी यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी को इटालियन कहते रहते हैं और इस ट्वीट में भी उन्होंने इटालियन कहकर सोनिया गांधी पर ही निशाना साधा है।

सुब्रमण्यम स्वामी का यह ट्वीट ऐसे समय आया है जब गोवा और कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर विपक्ष बीजेपी पर हमलावर है। दरअसल, गोवा विधानसभा में कांग्रेस के 15 विधायक थे। 10 विधायकों के बीजेपी में शामिल होने से उसके 5 विधायक बचे हैं। वहीं, कर्नाटक में कुछ विधायकों के बागी रुख अख्तियार करने के बाद कांग्रेस-जेडीएस सरकार पर संकट गहरा गया है।

गुलाम नबी आजाद ने बीजेपी और उसके नेताओं पर लगाया ये आरोप

कांग्रेस कर्नाटक और गोवा के घटनाक्रम को लेकर बीजेपी को कठघरे में खड़ा कर रही है। राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने बीजेपी और उसके नेताओं पर संविधान की परवाह न करने का आरोप लगाया। आजाद ने कहा, ऐसा लगता है कि बीजेपी सरकार सिर्फ धर्मनिरपेक्षता, लोकतंत्र और विपक्ष को खत्म करने के लिए ही सत्ता में आई है। आजाद ने कहा कि बीजेपी का एकमात्र लक्ष्य एक राजनीतिक पार्टी है। यह कहीं से भी लोकतंत्र और संविधान के अनुरूप नहीं।

अपने बयानों के जरिए कई बार अपनी ही पार्टी पर निशाना साध चुके हैं स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी भले ही भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं लेकिन अपने बयानों के जरिए कई बार वे भाजपा की कार्यशैली पर निशाना साध चुके हैं। उन्होंने कई बार भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर भी निशाना साधा है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से