Home राजनीति राष्ट्रीय दल महाराष्ट्र में टिकट बंटवारे से नाराज संजय निरुपम बोले, नहीं करूंगा पार्टी के लिए प्रचार

महाराष्ट्र में टिकट बंटवारे से नाराज संजय निरुपम बोले, नहीं करूंगा पार्टी के लिए प्रचार

आउटलुक टीम - OCT 03 , 2019
महाराष्ट्र में टिकट बंटवारे से नाराज संजय निरुपम बोले, नहीं करूंगा पार्टी के लिए प्रचार
महाराष्ट्र में टिकट बंटवारे से नाराज संजय निरुपम बोले, नहीं करूंगा पार्टी के लिए प्रचार
File Photo
आउटलुक टीम

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में टिकट को लेकर कलह खुलकर सामने आ गई है। टिकट बंटवारे से नाराज कांग्रेस नेता संजय निरुपम अब पार्टी छोड़ने के संकेत दिए हैं। गुरुवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि लगता है पार्टी को अब उनकी सेवाओं की जरूरत नहीं रह गई है और चुनावों में कांग्रेस के लिए प्रचार नहीं करूंगा।

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निरुपम ने संजय निरुपम द्वारा सुझाए गए प्रत्याशियों के नाम खारिज करने की वजह से वह नाराज हैं। उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि जिस ढंग से पार्टी नेतृत्व उनके साथ व्यवहार कर रही है, उससे पार्टी को अलविदा कहने के दिन ज्यादा दूर नहीं हैं।

अपने ट्वीट में लिखा है,'ऐसा लगता है कि पार्टी को अब मेरी सेवाओं की जरूरत नहीं है। मुंबई में मैंने विधानसभा चुनाव के लिए सिर्फ नाम की सिफारिश की थी। मुझे पता चला है कि उसे भी खारिज कर दिया गया। मैंने नेतृत्व को पहले ही बताया था कि ऐसी स्थिति में मैं चुनाव प्रचार में हिस्सा नहीं लूंगा। यह मेरा आखिरी फैसला है। मैं पहले ही पार्टी नेतृत्व को कह चुका हूं कि ऐसे में मैं चुनाव प्रचार में हिस्सा नहीं लूंगा।।'

नहीं हैं अलविदा कहने के दिन दूर

उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, मुझे उम्मीद है कि पार्टी को अलविदा कहने का दिन अभी नहीं आया है, लेकिन जिस तरह से लीडरशिप मेरे साथ व्यवहार कर रहे हैं, उससे लगता है कि अब वह दिन दूर नहीं है।  

हटा दिया था कांग्रेस अध्यक्ष पद से

पार्टी नेताओं के एक तबके की शिकायत के बाद निरूपम को इस साल लोकसभा चुनाव से पहले मार्च में मुंबई कांग्रेस प्रमुख के पद से हटा दिया गया था। उनके खिलाफ शिकायत की गई थी कि वह ''एकतरफा ढंग से काम करते हैं। निरूपम की जगह पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिन्द देवड़ा को मुंबई कांग्रेस का प्रमुख बनाया गया था। हालांकि, देवड़ा ने आम चुनाव में पार्टी की हार के बाद पिछले महीने पद से इस्तीफा दे दिया था।

 कांग्रेस और एनसीपी 288 सदस्यीय विधानसभा में 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार हो गए हैं। इसके अलावा बाकी 38 सीटें गठबंधन के अन्य सहयोगी दलों के लिए छोड़ी गई हैं। कांग्रेस की पहली लिस्ट के मुताबिक, बोकर से चव्हाण, संगमनेर से विजय उर्फ बालासाहेब थोरात, नागपुर उत्तर से नितिन राउत और लातूर शहर सीट से अमित विलासराव देशमुख चुनाव लड़ेंगे। अमित पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत विलासराव देशमुख के बेटे हैं। इसके अलावा वरिष्ठ कांग्रेस नेता एकनाथ गायकवाड़ की बेटी और धारावी की मौजूदा विधायक वर्षा एकनाथ गायकवाड़ को भी टिकट दिया है। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तारीख 4 अक्टूबर है। 21 अक्टूबर को मतदान होगा और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से