Home राजनीति राष्ट्रीय दल किसान आंदोलन को लेकर राहुल गांधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- ‘वे असत्य, अन्याय पर अड़े, हम एकजुट यहां खड़े’

किसान आंदोलन को लेकर राहुल गांधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- ‘वे असत्य, अन्याय पर अड़े, हम एकजुट यहां खड़े’

आउटलुक टीम - JUL 22 , 2021
किसान आंदोलन को लेकर राहुल गांधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- ‘वे असत्य, अन्याय पर अड़े, हम एकजुट यहां खड़े’
किसान आंदोलन को लेकर राहुल गांधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- ‘वे असत्य, अन्याय पर अड़े, हम एकजुट यहां खड़े’
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

पिछले साल नवंबर से किसान केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। कांग्रेस सांसदों ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर गुरुवार को राहुल गांधी की अगुवाई में संसद भवन परिसर में प्रदर्शन किया। इस बीच राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि वे असत्य, अन्याय, अहंकार पर अड़े हैं।

संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष आयोजित इस प्रदर्शन में कांग्रेस के दोनों सदनों के कई सदस्यों ने हिस्सा लिया।  खासतौर पर पार्टी की पंजाब इकाई के सांसद ज्यादा दिखे। इनके हाथों में 'सेव कंट्री, सेव फार्मर्स' लिखी तख्तियां लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। इस दौरान पुलिस ने कई कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया। हालांकि, कुछ समय बाद हिरासत में लिए गए नेताओं को छोड़ दिया गया। 

राहुल गांधी ने संसद में प्रदर्शन करते हुए एक तस्वीर ट्विटर पर शेयर करके लिखा, ‘’वे असत्य, अन्याय, अहंकार पर अड़े हैं, हम सत्याग्रही, निर्भय, एकजुट यहां खड़े हैं, जय किसान! #FarmersParliament.’’

प्रदर्शन में राहुल गांधी के अलावा लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, लोकसभा सदस्य मनीष तिवारी, गौरव गोगोई, रवनीत बिट्टू, राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा और कई अन्य सांसद इस प्रदर्शन में शामिल हुए। कांग्रेस सांसदों ने ‘काले कानून वापस लो’ और ‘प्रधानमंत्री न्याय करो’ के नारे लगाए।

बता दें कि दिल्ली से लगे टिकरी बॉर्डर, सिंघू बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर किसान पिछले साल नवम्बर से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी मांग है कि तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए और न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी दी जाए। वहीं, सरकार का कहना है कि ये कानून किसान हितैषी हैं. सरकार और प्रदर्शन कर रहे किसानों के बीच कई दौर की वार्ता बेनतीजा रही है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से