Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » छत्तीसगढ़ में राहुल का मोदी पर अटैक, कहा- नोटबंदी कर लोगों को बनाया गया बेवकूफ

छत्तीसगढ़ में राहुल का मोदी पर अटैक, कहा- नोटबंदी कर लोगों को बनाया गया बेवकूफ

NOV 09 , 2018

छत्तीसगढ़ में आज चुनावी रैलियों से सियासी गर्माहट बढ़ गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दोनों हू नेता शुक्रवार को छत्तीसगढ़ में पहुंचे हैं। इस दौरान राहुल गांधी ने कांकेर में जनसभा को संबोधित किया। राहुल ने यहां रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की, देश के लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया। इससे सिर्फ चौकीदार के दोस्तों का भला हुआ था और किसी का भला नहीं हुआ। राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी की गई और कालाधन वापस लाने के नाम पर लोगों का बेवकूफ बनाया गया।

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कुछ बिजनेसमैन मित्रों का 3 लाख करोड़ से ज्यादा का कर्ज माफ किया, लेकिन किसानों के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि नीरव मोदी, विजय माल्या, मेहुल चोकसी देश का पैसा लेकर भाग गया। विजय माल्या देश छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिलकर गया था।

राहुल गांधी ने राफेल डील का मुद्दा भी उठाया। राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने एचएएल से कॉन्ट्रैक्ट छीनकर अनिल अंबानी की कंपनी को दे दिया। मोदी सरकार ने 526 करोड़ का हवाई जहाज, 1600 करोड़ रुपये में खरीदा। अनिल अंबानी ने पूरी जिंदगी में हवाई जहाज नहीं बनाया और एचएएल 70 साल से ये ही बना रही है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने लोगों को चूना लगाने वाली कंपनियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। आम लोगों का पैसा छीनकर 15 उद्योगपतियों को दे दिया गया।

गौरतलब है कि राहुल गांधी का ये छत्तीसगढ़ दौरा दो दिनों का है। राहुल आज कई रैलियों को संबोधित करेंगे, इसके अलावा रोड शो भी करेंगे।

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में पहले चरण की 18 सीटों के लिए 12 नवंबर को होना मतदान होना है। वहीं दूसरे चरण के लिए 20 नवंबर को 72 सीटों के लिए मतदान होगा।छत्तीसगढ़ में कुल 90 विधानसभा सीटें हैं। राज्य में अभी कुल 11 लोकसभा और 5 राज्यसभा की सीटें हैं। राज्य में कुल 51 सीटें सामान्य, 10 सीटें एससी और 29 सीटें एसटी के लिए आरक्षित हैं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.