Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » येदियुरप्पा का इस्तीफा लोकतंत्र की जीतः ममता बनर्जी

येदियुरप्पा का इस्तीफा लोकतंत्र की जीतः ममता बनर्जी

MAY 19 , 2018

कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण से पहले सीएम बी एस येदियुरप्पा के पद से इस्तीफा दिए जाने पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह लोकतंत्र की जीत है।

ममता बनर्जी ने पूर्व प्रधानमंत्री और जनता दल-सेक्युलर (जेडी-एस) के अध्यक्ष एच.डी. देवगौड़ा, पार्टी नेता एच.डी. कुमारस्वामी और कांग्रेस को लोकतंत्र की जीत पर बधाई दी। ममता ने ट्वीट कर कहा, ‘लोकतंत्र की जीत। बधाई हो कर्नाटक। देवगौड़ा जी, कुमारस्वामी जी, कांग्रेस और अन्य को बधाई। क्षेत्रीय मोर्चे की जीत।‘

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा, आज का दिन भारतीय राजनीति में धनबल की जगह जनमत की जीत का दिन है। नैतिक रूप से तो केंद्र की सरकार को भी इस्तीफा दे देना चाहिए। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि सबको खरीद लेने का दावा करने वालों को आज ये सबक मिल गया है कि अभी भी भारत की राजनीति में ऐसे लोग बाकी हैं, जो उनकी तरह राजनीति को कारोबार नहीं मानते हैं।

भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा ने कहा, 'कर्नाटक ने दिखाया कि राजनीति में थोड़ी सी नैतिकता बची हुई है, दुख की बात है कि भाजपा में नहीं है। अब गवर्नर को भी इस्तीफा दे देना चाहिए।'

कवि और आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, 'विपरीत वैचारिकी वाली कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर का मेल कैसे निभेगा ये अलग बात है किंतु दोनों दलों के विधायकों ने अद्भुत दलीय-निष्ठा का परिचय दिया। साथ ही टीम राहुल गांधी ने भी शानदार राजनैतिक सूझबूझ से काम लिया पक्ष और विपक्ष दोनों का दमदार होना लोकतंत्र के हित में है।'

 आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि हर कोई इसके बारे में खुश होगा। प्रधानमंत्री और भाजपा अध्यक्ष ने लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश की। भ्रष्ट को प्रोत्साहित करके उन्होंने क्या संदेश दिया? भाजपा जनार्दन रेड्डी को सबसे आगे लायी और राजनीति की।

 बता दें कि शनिवार को कर्नाटक में भाजपा की सरकार गिरने के बाद विपक्ष के नेता भाजपा पर निशाना साध रहे हैं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.