Home राजनीति राष्ट्रीय दल अगले महीने हो सकती है एक और सर्जिकल स्ट्राइक: ममता बनर्जी

अगले महीने हो सकती है एक और सर्जिकल स्ट्राइक: ममता बनर्जी

आउटलुक टीम - MAR 12 , 2019
अगले महीने हो सकती है एक और सर्जिकल स्ट्राइक: ममता बनर्जी
अगले महीने हो सकती है एक और सर्जिकल स्ट्राइक: ममता बनर्जी
आउटलुक टीम

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी पार्टियों की ओर से बयानबाजियां जारी है। वहीं, एयर स्ट्राइक को लेकर भी राजनीति तेज है। अब टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हैरान करने वाला बयान दिया है। ममता बनर्जी के मुताबिक, अगले महीने फिर एक सर्जिकल स्ट्राइक हो सकती है।

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, ममता ने कहा, ''कुछ वरिष्ठ पत्रकारों ने मुझे बताया है कि एक और हमला (स्ट्राइक) होगा। मैं नहीं कह सकती कि यह किस तरह का हमला  होगा। अप्रैल में तथाकथित....तथाकथित....तथाकथित के नाम पर। इसी वजह से यह (मतदान की प्रक्रिया) 19 मई तक जारी रहेगी।''

सीएम ममता ने कहा, ''कृपया मुझे गलत तरीके से पेश नहीं करें। चुनाव आयोग जैसी संवैधानिक संस्था के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है। लेकिन पश्चिम बंगाल में माहौल खराब करना भाजपा की योजना का हिस्सा है।'' उन्होंने कहा कि मैं इससे ज्यादा इस बारे में कुछ भी नहीं कह सकती। ममता बनर्जी का यह बयान बालाकोट में एयर स्ट्राइक के15 दिन बाद आया है।

ममता मांग चुकी हैं सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत

बालाकोट में आतंकी शिवरों पर एयर स्ट्राइक के बाद टीएमसी ने सरकार से इसके सबूत दिखाने की मांग की थी। ममता बनर्जी ने कहा था कि तथ्यों के साथ सामने आने का मौका दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "हमें यह जानने का अधिकार है, इस देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि बालाकोट में कितने मारे गए? वास्तव में बम कहां गिराया गया था? क्या यह लक्ष्य पर गिरा था?'

लोकसभा चुनाव से पहले हो सकते हैं पुलवामाजैसे और हमले: राज ठाकरे

राजनीतिक पार्टियों की ओर से इस समय कई तरह की बयानबाजियां सामने आ रही हैं। इससे पहले महाराष्ट्र नव निर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने दावा किया कि आने वाले कुछ महीनों में आम चुनाव से पहले पुलवामा जैसे और हमले हो सकते हैं। आगामी लोकसभा से पुलवामा और पठानकोट आतंकवादी हमलों को जोड़ते हुए शनिवार को राज ठाकरे ने कहा कि चुनाव में जीत के लिए ‘पुलवामा की तरह की एक और घटना’ निकट भविष्य में घट सकती है।

ठाकरे ने दावा किया कि भारतीय वायु सेना बालाकोट में निशाना ‘‘चूक’’ गयी, क्योंकि मोदी सरकार ने उन्हें गलत सूचना दी थी।  उन्होंने कहा, ‘‘अगर प्रधानमंत्री स्वयं कहते हैं कि देश में राफेल जेट होता तो परिणाम और बेहतर होता, यह हमारे जवानों का अपमान है।’’ हवाई हमलों में आतंकवादियों के मारे जाने को विवादित बताते हुए ठाकरे ने कहा कि अगर ऐसा होता तो भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान वापस लौटने की अनुमति कभी नहीं देता। मनसे प्रमुख ने कहा, ‘‘झूठ बोलने की भी कोई सीमा होती है। चुनाव जीतने के लिए झूठ बोला जा रहा है। चुनाव जीतने के लिए अगले एक दो महीनो में पुलवामा के समान एक और हमला होगा।’’

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से