Home » राजनीति » राष्ट्रीय दल » केन्द्रीय मंत्री बोले- देश में रेप की एक-दो घटनाएं हों तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए

केन्द्रीय मंत्री बोले- देश में रेप की एक-दो घटनाएं हों तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए

APR 22 , 2018

देश में लगातार हो रहे बलात्कार के मामले को लेकर पूरे देश में आक्रोश है। इस बीच मोदी सरकार के एक मंत्री ने रेप पर विवादास्पद बयान दिया है। केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने रेप केस पर कहा है कि इतने बड़े देश में रेप की एक-दो घटनाएं हो जाए तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने शनिवार को रेप मामले पर एक सवाल के जवाब में कहा कि ऐसी घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण होती हैं, पर कभी-कभी इन्हें रोका नहीं जा सकता है। सरकार सक्रिय है सब जगह, कार्रवाई कर रही है। इतने बड़े देश में एक-दो घटनाएं हो जाए तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री का ये बयान ऐसे वक्त में आया है जब केंद्र सरकार ने 12 साल तक की बच्ची से रेप पर फांसी की सजा देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। शनिवार को ही प्रधानमंत्री आवास पर केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया।

उन्नाव और कठुआ में पिछले दिनों हुई रेप की घटनाओं के बाद ऐसे आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग उठ रही थी। ऐसे में सरकार ने पॉक्सो एक्ट में संशोधन का अध्यादेश लाने का फैसला ‌किया।

कैबिनेट ने यह भी फैसला किया कि रेप के मामलों में तेज जांच और सुनवाई के सभी उपाय सुनिश्चित किए जाएंगे। 16 साल से कम उम्र की लड़की से रेप करने पर न्यूनतम सजा को 10 साल से बढ़ाकर 20 साल किया गया है। दोषी को उम्रकैद भी दी जा सकती है। अध्यादेश में यह भी प्रावधान किया गया है कि 12 साल से कम उम्र की लड़की से रेप के दोषी को न्यूनतम 20 साल की जेल या उम्रकैद तथा अधिकतम फांसी की सजा दी जा सकती है। महिला से दुष्कर्म पर सजा 7 साल से बढ़ाकर 10 साल की जाएगी। इस सजा को उम्र कैद में भी तब्दील किया जा सकता है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.